फुल वॉल्यूम 360°

India Skills 2021 में दिखा बिहारी दम, 4 गोल्ड समेत 11 मेडल पर छात्रों ने किया कब्ज़ा

india-skills
Share Post

PATNA : दिल्ली में आयोजित इंडिया स्किल्स 2021 (India Skills 2021) की राष्ट्रीय प्रतियोगिता में बिहार के युवाओं ने अपना जलवा दिखाया. बिहार के विजेताओं को 11 पदकों- 4 स्वर्ण , 2 रजत और 5 कांस्य पदक से सम्मानित किया गया. कुल मिलाकर प्रतियोगिता में 185 उम्मीदवारों को विजेता घोषित किया गया था.

नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में राजेश अग्रवाल, सचिव, कौशल, विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय, भारत सरकार ने इन विजेताओं को सम्मानित किया. विजेताओं को 1 लाख रुपए के नकद पुरस्कार से सम्मानित किया गया. वहीं पहले रनर-अप को 75 हजार रुपये और दूसरे रनर-अप को 50 हजार रुपये की राशि से सम्मानित किया गया. श्रम संसाधन मंत्री जिवेश कुमार ने प्रतियोगिता में सफलता के लिए युवाओं को बधाई दी है.

मंत्री ने बताया कि देश भर से 500 से अधिक प्रतिभागियों ने 54 इंडस्ट्रियल क्षेत्रों में हिस्सा लिया. सभी कौशल प्रतियोगिता के विजेताओं को सोमवार को दिल्ली में सम्मानित किया गया.

क्लोज्ड-डोर प्रतियोगिता का आयोजन राष्ट्रीय कौशल विकास निगम द्वारा एमएसडीई के मार्गदर्शन में किया गया था. प्रतियोगियों ने 54 तरह के कौशल, जैसे कन्स्ट्रक्शन वर्क, ब्यूटी थेरेपी, कार पेंटिंग, हेल्थ एवं सोशल केयर, विजुअल मर्चेन्डाइजिंग, ग्राफिक डिजाइन टेक्नोलाॅजी, वाॅल एण्ड फ्लोर टाइलिंग, वेल्डिंग आदि में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया.

बिहार के उत्सव ने ग्राफिक डिजाइन, आईटी नेटवर्क सिस्टम एंड एडमिनिस्ट्रेशन में बद्रीनाथ, रिन्यूवल एनर्जी में रौशन कुमार और विजुअल मर्चेंडाइजिंग में ताविसी तन्नू ने स्वर्ण पदक हासिल किया. रेस्टुरेंट सर्विस में अदिति ने रजत जीता.

इंडिया स्किल्स प्रतियोगिता युवाओं की प्रतिभा को पहचान कर उन्हें सम्मानित करती है. इस साल प्रतियोगिता में 26 राज्योंध् केन्द्र शासित प्रदेशों से 500 से अधिक प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया. प्रतियोगिताओं का आयोजन 7 से 9 जनवरी के बीच दिल्ली-एनसीआर के प्रगति मैदान में किया गया.

प्रतियोगिता के दौरान स्थानीय अधिकारियों एवं दिल्ली सरकार द्वारा निर्देशित कोविड-19 के सभी नियमों का पालन किया गया. साथ ही सुरक्षा के अन्य सभी प्रोटोकाॅल्स का भी सख्ती से पालन किया गया जैसे आगंतुकोंध् दर्शकों को प्रवेश की अनुमति न देना, सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करना और प्रतियोगिता स्थल पर नियमित रूप से सैनिटाइजेशन करना आदि.

राजेश अग्रवाल, सचिव, कौशल विकास एवं उद्यमशीलता मंत्रालय (एमएसडीई) ने कहा, ‘‘इंडियास्किल्स प्रतियोगिता में उम्मीदवारों की प्रतिभा को देखकर मुझे बेहद खुशी का अनुभव हो रहा है. यह प्रतियोगिता युवाओं को अपने कौशल का प्रदर्शन करने का मौका देती है, साथ ही अन्य युवाओं को भी व्यवसायिक प्रशिक्षण के लिए प्रेरित करती है.

बिहार के जल संसाधन और जनसंपर्क मंत्री संजय कुमार झा, ने कहा कि मैं सभी युवाओं के उज्ज्वल भविष्य और बेहतर प्रदर्शन की कामना करता हूं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के 7 निश्चय के तहत युवाओं के कौशल विकास के लिए निरंतर प्रयास हो रहे हैं.

Latest News

To Top