ट्रेंड टॉक लाइफ स्टाइल

Google Pay का नया अपडेट : अब पैसे को करें डिलीट

google-pay
Spread It

पेमेंट ऐप Google Pay ने अपने पेमेंट फीचर्स में एक नया बदलाव किया है। भारत में Google Pay यूजर्स को सुरक्षित करने के लिए, कंपनी ने इस डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म पर ट्रांजैक्शन डेटा को मैनेज करने के लिए अधिक विकल्पों और कण्ट्रोल की घोषणा की है। Google Pay ऐप से यूजर जल्द ही अपनी ट्रांजैक्शन हिस्ट्री को डिलीट कर सकेंगे।

यूजर्स अब इंडिविजुअल ट्रांजैक्शन और एक्टिविटी रिकॉर्ड देख सकते हैं और हटा सकते हैं। ये बदलाव प्राइवेसी के लिहाज से बहुत ही अच्छी है। Google Pay के “Personalisation within Google Pay” चालू करने से इस ऐप्प के भीतर अच्छा अनुभव मिलेगा। Google Pay के इस फीचर से यूजर अपने लास्ट 10 UPI ट्रांजैक्शन को डिलीट या टोकननाइज्ड कर सकते है, जिससे इन ट्रांजैक्शन का ऐक्सेस गूगल को नहीं मिल पाएगा।

इस फीचर को Google Pay के नए अपडेट के साथ जारी किया जाएगा। सभी यूजर्स को यह चुनने के लिए कहा जाएगा कि क्या वे इस ऐप के नेक्स्ट वर्जन में अपग्रेड करते ही कंट्रोल को ऑन या ऑफ करना चाहेंगे। इस फीचर को प्राइवेट डेटा का मिसयूज होने से बचाने के लिए लाया जा रहा है। इस सेटिंग के बंद हो जाने के बाद भी, Google Pay सिर्फ और सिर्फ Personalisation के बिना भी काम करता रहेगा।

Google Pay, Google द्वारा विकसित एक डिजिटल वॉलेट प्लेटफ़ॉर्म और ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम है। यह क्रेडिट या डेबिट कार्ड की चिप और पिन या मैग्नेटिक स्ट्राइप ट्रांज़ैक्शन को पॉइंट-ऑफ-सेल टर्मिनलों पर बदल देता है, जिससे यूज़र Google पे वॉलेट में इन्हें अपलोड कर सकते हैं। यह सेवा कूपन, बोर्डिंग पास, छात्र आईडी कार्ड, ईवेंट टिकट, मूवी टिकट, पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन टिकट, स्टोर कार्ड और लॉयल्टी कार्ड जैसे पासों का भी समर्थन करती है।

Add Comment

Click here to post a comment