ट्रेंड टॉक लाइफ स्टाइल

जगह एक मिलें सारे स्वदेशी एप

aatmanirbhar
Spread It

भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए पूरा देश स्वदेशी वस्तुओं को बढ़ावा देने में लगा हुआ है। अब हम डिजिटली भी स्वदेशी एप को आगे बढ़ने की कोशिश में लगे हुए हैं। लेकिन परेशानी ये होती है की स्वदेशी एप एक जगह न मिलने के कारन उसे ढूंढना होता है। जिसमे कभी कभी थोड़ी परेशानी और साथ ही स्वदेशी होने या ना होने की भी आशंका होती है। लेकिन अब ये परेशानी आपको नहीं झेलनी पड़ेगी क्योंकि आत्मनिर्भर भारत के लिए आत्मनिर्भर एप सारे स्वदेशी एप को एक जगह ला रहा है।

ऐप में बिजनेस, ई-लर्निंग, न्यूज, हेल्थ, शॉपिंग, गेम्स, यूटिलिटी, इंटरटेनमेंट, सोशल समेत कई अन्य कैटेगरी के स्वदेशी ऐप मौजूद हैं। फिलहाल, आत्मनिर्भर ऐप केवल एंड्रॉयड डिवाइस में काम करेगी।

डाउनलोडिंग मुफ्त

आत्मनिर्भर ऐप गूगल प्ले स्टोर पर मुफ्त में उपलब्ध है। यह आपको स्थानीय डेवलपर्स द्वारा बनाए गए 100 से अधिक भारतीय ऐप का पता लगाने और खोजने की अनुमति देता है। ऐप में कोई रजिस्ट्रेशन करने की जरूरत नहीं पड़ती। डाउनलोड करने के बाद इसमें सीधे स्वदेशी ऐप्स दिखने लगती हैं, जिन्हें डाउनलोड किया जा सकता है। इसमें आरोग्य सेतु, BHIM ऐप, नरेंद्र मोदी ऐप, जियो टीवी, डिजिलॉकर, कागज स्कैनर, IRCTC रेल कनेक्ट समेत कई स्वदेशी ऐप्स शामिल हैं।

मिलेगी ऐप से जुड़ी तमाम जानकारी

आत्मनिर्भर ऐप का डाउनलोड साइज 12MB है। वर्तमान में, प्लेटफॉर्म 100 से अधिक ऐप होस्ट करने का दावा करता है और इस वर्ष के अंत तक इसमें कुल 500 ऐप्स तक लाने की योजना है। लिस्ट में ऐप का साइज, कितने भारतीयों इसे इंस्टॉल कर चुके हैं उनकी संख्या और ऐप क्या काम करती है उसके बारे में संक्षिप्त जानकारी मिलती है।

यह आत्मनिर्भर किफायत, ग्रोसिट, जैन थेला, होम शॉपी, यूअरकोट, विर्धी स्टोर, एक्सप्लोर एआई कीबोर्ड, एमपरिवाहन जैसे कम पॉपुलर ऐप्स को भी दर्शाता है। प्लेटफॉर्म ई-गवर्नेंस, यूटिलिटी, एग्रीकल्चर, गेमिंग, एंटरटेनमेंट, लाइफस्टाइल, ई-लर्निंग जैसी कैटेगरी से कई प्रकार के ऐप्स होस्ट करता है। लिस्ट की गई ऐप्स के बगल में ‘गेट ऐप’ का बटन है, जिसपर क्लिक करते ही यूजर सीधे गूगल प्ले स्टोर पर पहुंच जाता है, जहां से ऐप को डाउनलोड किया जा सकता है।

Add Comment

Click here to post a comment

Featured