लाइफ स्टाइल इंटरटेनमेंट

Happy Birthday Farukh Sheikh : वो जो जीता था अपने किरदार को

farooq-sheikh
Spread It

बॉलीवुड में अपनी एक्टिंग से अलग हीं छाप छोड़ने वाले दिग्गज अभिनेता फारुख शेख (farooq sheikh) का जन्म 1948 में आज हीं के दिन यानि 25 मार्च को गुजरात के अमरोली में हुआ था। फिल्म ‘उमराव जान’, ‘बाजार’, ‘चश्म-ए-बद्दूर’, ‘क्लब 60’, ‘नूरी’ और न जाने कई बेहतरीन फिल्मों में अपनी सादगी भरी अदाकारी से लोगों का दिल जीतने वाले अभिनेता की बर्थ एनिवर्सिरी पर आइए जानते हैं उनके जिंदगी से जुड़े कुछ दिलचस्प बातों को :

➢ फारुख के पिता मुस्तफा शेख मुंबई के एक प्रतिष्ठित वकील थे, और फारुख के जीवन में उनके पिता का काफी प्रभाव था इसीलिए उन्होंने वकालत की पढाई भी की थी।

➢ कॉलेज में वह पढ़ाई के साथ तमाम नाटकों और खेलकूद की गतिविधियों में भी हिस्सा लेते थे।

➢ फारुख स्कूली दिनों से न केवल क्रिकेट के दीवाने थे बल्कि अच्छे क्रिकेटर भी थे।

➢ फारुख सुनील गावस्कर के काफी अच्छे दोस्त थे।

➢ फारुख के साथ अभिनेत्री शबाना आजमी उनके कॉलेज में साथ पढ़ती थीं। साथ हीं दोनों एक साथ नाटकों में भी काम करते थे।

‘तुम्हारी अमृता’ नाटक से दोनों की जोड़ी दर्शकों को खूब पसंद आने लगी थी।

➢ कॉलेज में दौरान हीं फारुख शेख की मुलाकात रूपा जैन से हुई, जिनके साथ उन्होंने शादी की थी।

➢ 1973 में आई फिल्म ‘गरम हवा’ से अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत की थी।

➢ अभिनेत्री दीप्ति नवल के साथ उनकी कई सुपरहिट फिल्में आई थी।

फारुख बॉलीवुड के एक ऐसे अभिनेता थे जिनका नाम किसी भी तरह के कॉन्ट्रोवर्सी में नहीं आया था

➢ टीवी शो ‘जीना इसी का नाम है’ के लिए भी फारुख काफी मशहूर हुए थे।

70 और 80 के दशक में हिंदी सिनेमा को बेहतरीन फिल्में देने के बाद फारुख ने 15 साल तक फिल्मों से दूरी बनाए रखी।

➢ फिल्मों में वापसी के बाद उन्होंने वर्ष 2009 में आई फिल्म ‘लाहौर’ में अभिनय कर राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार अपने नाम किया था।

➢ साल 2013 में रणवीर कपूर के पिता के किरदार में फिल्म ‘ये जवानी है दीवानी’ में नज़र आये थे।

➢ फिल्म ‘यंगिस्तान’ फारुख शेख की आखिरी फिल्म थी।

➢ साल 2013 के दिसम्बर में दिल का दौरा पड़ने से फारुख की मौत हो गयी थी।

Add Comment

Click here to post a comment