इंटरटेनमेंट लाइफ स्टाइल

बेशर्म ने पहुंचाया मुकाम तक

Shameless
Spread It

लेखक-निर्देशक कीथ गोम्स द्वारा सयानी गुप्ता-स्टारर, Shameless (बेशर्म), भारत की उन फिल्मों में से एक है, जो 93 वें ऑस्कर में Live Action Short Film श्रेणी में योग्यता के लिए पात्र है। यह फिल्म हमारी बढ़ती टेक्नोलॉजी- सैचुरेटेड आधुनिक दुनिया के कारण हमारे बीच मानवीय भावना के नुकसान को उजागर करती है। यह फिल्म 15 मिनट तक चलने वाली कॉमेडी-थ्रिलर है।

गोम्स ने एक बयान में कहा, “मैं मानवीय व्यवहार और मानवीय भावना के बारे में कहानियां सुनाना पसंद करता हूं। इस दुनिया को दयालुता की जरूरत है और मेरी फिल्में टेक्नोलॉजी में नहीं खो जाने के लिए एक रिमाइंडर हैं। मुझे अपने अविश्वसनीय कलाकारों और राष्ट्रीय और ऑस्कर पुरस्कार विजेताओं के अपने दल को धन्यवाद देना होगा। मैं परिवार और दोस्तों से बहुत कम धन के साथ फिल्में बनाता हूं, हर कोई प्यार और जुनून के साथ आता है। मैं अधिक धन्य नहीं हो सकता।”

2000 से अधिक entries के साथ, ShortsTV ने इस महीने की शुरुआत में Best of India Short Film Festival के तीसरे संस्करण की मेजबानी की थी। निर्णायक मंडल ने तीसरे संस्करण की विजेता फिल्म के रूप में, विद्या बालन द्वारा फीचर्ड और  सह- निर्मित लघु “नटखट” की घोषणा की थी। इसने फिल्म को ऑस्कर नामांकन के लिए पात्र बनाया। हालाँकि, इस संस्करण के अन्य फाइनलिस्ट भी ऑस्कर के लिए पात्र हैं, जो कि गोम्स के “शमलेस”, निर्देशक आदित्य केलगांवकर के “साउंड-प्रूफ” हैं, प्रत्यूषा गुप्ता द्वारा निर्देशित “सफर” और निर्देशक धीरज जिंदल की “ट्रैप्ड” हैं।”

इस फिल्म की कहानी हुसैन दलाल द्वारा निभाए गए एक चरित्र के इर्द-गिर्द घूमती है, जो घर से काम करता है। अपने निरंतर खाने के आर्डर के कारण, वह खुद को पिज्जा डिलीवरी गर्ल सयानी द्वारा फँसा हुआ पाता है। स्लमडॉग मिलियनेयर के लिए ऑस्कर जीतने वाले रेसुल पुकुट्टी Shameless के साउंड डिज़ाइनर हैं। हालाँकि, 9 फरवरी, 2021 को ऑस्कर की शॉर्टलिस्ट का अनावरण किया जाएगा और नामांकन 15 मार्च को घोषित किए जाएंगे।