इंटरटेनमेंट लाइफ स्टाइल

भारत का ऑस्कर प्रतिनिधित्व करेगा जल्लीकट्टू

jallikatu scaled
Spread It

इंसान और जानवरों के बीच इमोशन को दिखाने वाली मलयालम फिल्म जल्लीकट्‌टू को 25 अप्रैल 2021 को लॉस एंजेलिस में होने वाली 93वें एकेडमी अवॉर्ड्स के लिए भारत की ओर से आधिकारिक एंट्री घोषित किया गया है। फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया की 14 सदस्यों की एक कमेटी ने डायरेक्टर लिजो जोस पेलीसरी की इस फिल्म को चुना है। जल्लीकट्‌टू बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म फॉरेन लैंग्वेज कैटेगरी में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी।

भारत की ओर से ऑस्कर में जाने के लिए ‘जल्लीकट्टू’ के अलावा कई और फिल्में भी रेस में थीं जिसमें शकुंतला देवी, शिकारा, गुंजन सक्सेना, भोंसले, गुलाबो सिताबो, सीरियस मैन, बुलबुल, कामयाब, द पिंक स्काई भी शामिल थीं। जलीकट्टू’ का निर्देशन लीजो जोज़े पिल्लीस्सेरी (Lijo Jose Pellissery) ने किया है। Antony Varghese, Chemban Vinod Jose, Sabumon Abdusamad and Santhy Balachandran फिल्म में बतौर लीड कलाकार नज़र आए थे।

पिछले साल टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में ‘जल्लीकट्टू’ का प्रीमियर हुआ था जहां फिल्म की खूब तारीफ हुई थी। इसके साथ ही फिल्म के डायरेक्टर पेल्लिसरी ने 50वें इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया में बेस्ट डायरेक्टर की ट्रॉफी जीती थी।

फिल्म का सार

ऑस्कर के लिए भेजी गई जल्लीकट्टू केरल के इडुक्की जिले के विवादित खेल जल्लीकट्‌टू पर आधारित है। फिल्म में वार्के और एंटनी नाम के शख्स एक कसाईखाना चलाते हैं। जहां भैंसों वहां मारकर उन्हें बेचा जाता है। एक दिन एक भैंस कसाईखाने में से भाग जाती है और पूरे गांव में आतंक मचा देती हैं। उसे कंट्रोल करने के लिए पुलिस को बुलाया जाता है। पूरा गांव उसे पकड़ने में जुट जाता है। लेकिन भैंस किसी के काबू में नहीं आती है। फिल्म में भैंस को अलग-अलग तरह से काबू में करने की कोशिश दिखाई गई है साथ है भैंस ख़ुद को भीड़ से कैसे बचाती है ये दिखाया गया है।