पीपुल फुल वॉल्यूम कॉर्नर

Mukesh Hisariya Exclusive Interview : Dettol ने अपनी Handwash प्रोडक्ट पर छापी बिहार के इस मुसीबत के मसीहा की तस्वीर

mukesh hissariya
Spread It

इस कोरोना वायरस महामारी में स्थिति भयावह हो गयी है। इस कोरोना काल में लोग अपनों को खो रहे हैं और कहीं न कहीं खुद को भी। अगर ऐसी स्थिति में कोई मदद का हाथ बढ़ाये तो वो किसी मसीहा से कम नहीं है। ऐसे ही एक मसीहा बनकर लोगों की मदद करने के लिए पटना के मुकेश हिसारिया (Mukesh Hisarya) सामने आये हैं। उनकी इस अच्छे काम के लिए Dettol, इंडिया ने उन्हें सम्मानित करते हुए अपने हैंडवाश प्रोडक्ट पर उनकी तस्वीर प्रिंट की है।

डेटोल के हैंडवाश पर मुकेश की तस्वीर छपने के साथ उनके बारे में कुछ लिखा भी गया है। इस प्रोडक्ट में लिखा है, “पटना के मुकेश ने कई लोगों के लिए अंतिम संस्कार की जोखिम उठाने के लिए अपनी जान जोखिम में डाल दी, तब भी जब परिवार शामिल नहीं होते थे।” मुकेश ने Dettol इंडिया का आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद दिया।

इस प्रोडक्ट में तस्वीर प्रिंट होने के साथ उन्हें डेटोल की तरफ से एक सर्टिफिकेट भी प्रदान की गयी। इस सर्टिफिकेट में लिखा है, “यह सर्टिफिकेट श्री मुकेश हिसारिया को महामारी के अत्यंत कठिन समय के दौरान भारत के लोगों की मदद करने के उनके असाधारण प्रयासों के लिए प्रदान किया जाता है। हम उनके साहस और निस्वार्थता की गहराई से सराहना करते हैं और पूरे देश के लिए आशा और प्रेरणा के स्रोत होने के लिए उन्हें सलाम करते हैं।”

आपको बता दे की Mukesh Hisarya, पटना के “माँ वैष्णों देवी सेवा समिति” के फाउंडर हैं। इस संस्था के माध्यम से वो लोगों को रक्त और अंग दान के माध्यम से मदद करते हैं। इसके साथ ही वे थैलेसीमिया पीड़ित को हर मुमकिन मदद प्रदान करते हैं। वे जल्द हीं दरियापुर गोला कदमकुआँ में “माँ ब्लड बैंक” के नाम से देश का पहला नॉन कमर्शियल अत्याधुनिक ब्लड बैंक खोलने जा रहे है।