फुल वॉल्यूम कॉर्नर बिहारनामा

पटना ने मारी बाज़ी, टॉप शहरों में 16वें स्थान पर

patna
Spread It

देशभर के नगर निगमों की रैंकिंग उनके प्रदर्शन के आधार पर भारत सरकार के आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने जारी की है। Municipal Performance Index 2019 में पटना को 16वां स्थान प्राप्त हुआ था। जो 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले कुल 51 शहरों की लिस्ट में पटना नगर निगम 16वें रैंक पर है। Ease of Living Index-2019 में पटना ने बड़ी छलांग लगाते हुए 109वें स्थान से सीधे 33वें स्थान पर आ गया है। Municipal Performance Index में देश के सभी 100 स्मार्ट सिटी और 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों ने हिस्सा लिया। इसी लिस्ट में भी पटना ने अपना स्थान टॉप-20 में रखा है।

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी द्वारा ही Index के नतीजे और शहरों की रैंकिंग जारी की गयी है। Municipal Performance Index-2019 में पटना का कुल अंक 49.25 था और 16वां रैंक था। देशभर के नगर निकायों के प्रदर्शन के आंकलन और उनकी खामियों को दूर करने के साथ नगरपालिकाओं के बेहतर प्लानिंग एवं मैनेजमेंट के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा जनवरी 2020 में पहला नगर पालिका इंडेक्स-2019 लॉन्च किया गया था। Municipal performance index के पाँच क्षेत्रों में प्रदर्शन के आधार पर उनके कार्यों का आंकलन किया जाता है। वो है सेवा, वित्त, योजना, प्रौद्योगिकी, शासन।

Index में बेंगलुरु पहले स्थान पर है तो वहीं दूसरे स्थान पर पुणे है। पटना में बीते दिनों में जिंदगीयां पहले से सहज हुई है। केंद्र की ओर से 4 मार्च को जारी Ease of Living Index में पटना ने बड़ी छलांग लगाई है। 10 लाख से अधिक की आबादी वाले शहरों के लिस्ट में इस बार पटना 33वें स्थान पर है। महाराष्ट्र का औरंगाबाद, नासिक, वसई विरार, UP के मेरठ, आगरा, बरेली, MP के जबलपुर, राजस्थान के कोटा, झारखंड के रांची, धनबाद, पंजाब के अमृतसर जैसे शहर हमसे पीछे हैं। Ease of Living Index, 2018 में पटना जहाँ 109वें स्थान पर था। ये रिपोर्ट साल 2019-2020 की रिपोर्ट है जो कोरोना के वजह से देर से आई है।

Add Comment

Click here to post a comment