पासबुक फुल वॉल्यूम कॉर्नर

KYC Update : KYC के लिए इस दिन तक मिली छूट, अब आधार E-KYC से भी खोल सकते हैं खाता

KYC
Spread It

रिजर्व बैंक ने KYC को लेकर ग्राहकों को बड़ी राहत प्रदान की है। रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikant Das) ने कहा कि जो लोग अपने बैंक खाते में अपनी जानकारी अपडेट करना चाहते हैं, वे इसके लिए दिसंबर तक का समय ले सकते हैँ। इसके लिए बैंक कोई कार्रवाई नहीं करेगा।

उन्होंने बैंकों को यह सलाह दी कि समय-समय पर जो भी KYC अपडेट की प्रक्रिया है, या कोई पेंडिंग KYC है, उस पर ग्राहक के अकाउंट को चलाने में कोई कार्रवाई न करें। हां, अगर किसी रेगुलेटर या एंफोर्समेंट एजेंसी या कानूनी वजह से उस खाते पर प्रतिबंध है, तो यह लागू रहेगा।

नियम के मुताबिक, अगर आपकी KYC अपडेट नहीं है तो आपका बैंक खाता बैंक बंद कर देता है। इसीलिए बैंक को इस बार 31 दिसंबर तक का समय दिया गया है कि वे ग्राहकों के अकाउंट पर कोई कार्रवाई नहीं करें। राहत के रूप में तो कुछ बैंकों में ईमेल से बैंक को KYC से संबंधित कागजातों को भेज सकते हैं। साथ ही पोस्ट के जरिए भी दे सकते हैं।

रिजर्व बैंक ने कहा कि आधार E-KYC के सत्यापन के बाद आप बैंक में खाता खोल सकते हैं। अगर आप फेस टू फेस नहीं भी KYC कराते हैं तो भी यह मान्य होगा। नई प्रक्रिया के अनुसार, प्रोपराइटरशिप फर्म भी वीडियो KYC के जरिए खाता खोल सकती हैं। डिजिटल KYC में आप डिजीलॉकर का उपयोग पहचान पत्र के रूप में कर सकते हैं। इसे भी मान्य किया जाएगा।