पासबुक फुल वॉल्यूम कॉर्नर

Reliance Jio के इस कदम से Internet चलेगा धनाधन

jio-submarine-cable
Spread It

भारत की सबसे बड़ी 4G और मोबाइल ब्रॉडबैंड कंपनी रिलायंस जियो, अंतरराष्ट्रीय सबमरीन केबल सिस्टम बना रही है। Reliance Jio ने हाल ही में ये घोषणा की है कि कंपनी भारत के सबसे बड़े इंटरनेशनल सबमरीन केबल सिस्टम का निर्माण कर रही है। इसके लिए Jio ने कई ग्लोबल पार्टनर्स भी बनाए हैं। इसके अलावा सबमरीन केवल सप्लायर SubCom को भी इसमें हिस्सेदार बनाया गया है।

रिलायंस जियो भारत में डेटा की बढ़ती मांग का समर्थन करने के लिए नेक्स्ट जनरेशन के दो केबल लगाएगी। इसके तहत समुद्र में 16 हजार किलोमीटर लंबी केबल डाली जाएगी। इससे यूरोप से सिंगापुर तक जियो की कनेक्टिविटी मजबूत होगी। जियो का भारत-एशिया-एक्सप्रेस (आईएएक्स) सिस्टम भारत को पूर्व की ओर सिंगापुर और उससे आगे तक कनेक्ट करेगा, जबकि भारत-यूरोप-एक्सप्रेस (आईईएक्स) सिस्टम भारत को पश्चिम की ओर मध्य पूर्व और यूरोप से जोड़ेगा।

नया हाई स्पीड सिस्टम करीब 16,000 किलोमीटर की दूरी तक 200Tbps से अधिक की क्षमता प्रदान करेगा। आईएएक्स केबल सिस्टम दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था भारत को एशिया-प्रशांत के बाजारों से जोड़ेगा। इससे मुंबई, चेन्नई, थाईलैंड, मलेशिया और सिंगापुर तक एक्सप्रेस कनेक्टिविटी मिलेगी। 

आईईएक्स प्रणाली भारत को यूरोप में इटली मध्य पूर्व और उत्तरी अफ्रीका तक जोड़ेगी। आईएएक्स और आईईएक्स सिस्टम्स रिलायंस जियो के ग्लोबल फाइबर नेटवर्क से भी जुड़ती हैं, जो अमेरिका के पूर्वी और पश्चिमी तटों को कनेक्ट करती है। आईएएक्स के 2023 के मध्य में सेवा के लिए तैयार होने की उम्मीद है, जबकि आईईएक्स 2024 की शुरुआत में सेवा के लिए तैयार हो जाएगा।

आधिकारिक सुचना

https://www.ril.com/getattachment/366d722e-4d86-4d5b-922a-3322da07dc66/India-at-the-Center-of-Two-New-Subsea-Cable-System.aspx

जनजातीय स्कूल होंगे डिजिटल, भारत-माइक्रोसॉफ्ट हुए एक