फुल वॉल्यूम कॉर्नर पासबुक

अब ग्राहकों की इस परेशानी पर Bank को भरना होगा जुर्माना

rbi
Spread It

जरूरत के वक़्त ATM में पैसे नहीं होने पर बहुत परेशानी होती है। लेकिन अब इस परेशानी से जल्द ही निज़ात मिलने वाली है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने बैंकों और व्हाइट लेबल ATM ऑपरेटर्स से कहा है कि वो एक ऐसा मजबूत सिस्टम तैयार करें जिससे ATM में कैश की उपलब्धता की निगरानी करने और कैश खत्म होने की स्थिति से बचने के लिए समय पर उसकी पूर्ति करने में मदद करे।

Bank इस निर्देश का कड़ाई से पालन करें इसके लिए RBI ने पेनाल्टी लगाने का भी प्रावधान किया है। अगर किसी ATM में पैसा नहीं होगा तो उस बैंक पर पेनाल्टी लगेगी। 1 अक्टूबर 2021 से ये नियम लागू हो जाएगा। नए नियम के अनुसार, एक महीने में कुल 10 घंटे से ज्यादा समय तक अगर ATM में कैश नहीं रहा तो जिस बैंक का ATM है, उस पर पेनाल्टी लगाई जाएगी।

https://www.rbi.org.in/

RBI के जारी निर्दश में कहा कि ATM में नकदी नहीं डालने को लेकर जुर्माना लगाने की व्यवस्था का मकसद यह है कि लोगों की सुविधा के लिए ATM में पर्याप्त धन उपलब्ध हो। अगर एक तय समय तक ATM में कैश नहीं रहता है तो बैंकों पर प्रति ATM 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा।

रिजर्व बैंक के जारी आदेश के अनुसार, व्हाइट लेबल ATM की बात है तो इस केस में जुर्माना उस बैंक पर लगाया जाएगा, जो इससे संबंधित ATM में कैश की सप्लाई को पूरा करता है। व्हाइट लेबल ATM का परिचालन गैर- बैंक इकाइयां करती हैं। बैंक व्हाइट लेबल ATM परिचालक से जुर्माना राशि वसूल सकता है।