बिहारनामा फुल वॉल्यूम कॉर्नर

बिहार के स्कूल-कॉलेजों के छत पर लगेंगे Solar Plates

Nitish-Kumar
Spread It

मुख्यमंत्री Nitish Kumar ने वीडियो कन्फ्रेंसिंग के माध्यम से Jal Jeevan Hariyali Campaign के अंतर्गत किए जा रहे कार्यों की समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि जब से उन्हें बिहार में काम करने का अवसर प्राप्त हुआ है राज्य में विकास के कई कार्यों के साथ पर्यावरण संरक्षण के लिए भी महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। राज्य भर में वृक्षारोपण के साथ-साथ जल संरक्षण को लेकर भी काम किए गए हैं। आपको बता दें बिहार और झारखंड के बंटवारे के बाद बिहार का हरित आवरण 9% रह गया था। राज्य में साल 2012 में हरियाली मिशन की स्थापना की गई और इसके तहत 24 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया था। जिसमें लगभग 22 करोड़ पौधे लगाए जा चुके हैं। जिसके बाद बिहार का हरित आवरण 9% से बढ़कर 15% से अधिक हो गया है। बैठक में मुख्यमंत्री ने इसे 17% से अधिक करने का लक्ष्य रखा है। जिसके लिए राज्य भर में वृक्षारोपण का काम तेजी से किया जा रहा है।

5 जून 2021, विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री ने करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य रखा है। जिसके लिए उन्होंने अधिकारियों को कई निर्देश देते हुए कहा कि पौधों के लगने के बाद उनके रख-रखाव पर भी विशेष ध्यान दिया जाए।

जल जीवन हरियाली अभियान की बैठक में मुख्यमंत्री ने सौर ऊर्जा के उपयोग एवं उसके उत्पादन तथा ऊर्जा की बचत के लिए लोगों को प्रेरित करने की बात करी। इसके साथ ही उन्होंनेे कहा कि पुराने सरकारी स्कूलों के, कॉलेज, नए बनाए गए इंस्टीट्यूट के भवनों पर solar plates लगाए जाएंगे। जिससे ऊर्जा की बचत होगी और सौर ऊर्जा की तरफ लोग जागरूक होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके लिए संबंधित विभाग आपस में मीटिंग कर योजना बनाएं की इसे कैसे पूरा किया जा सकता है। तथा जनता के बीच जल-जीवन-हरियाली अभियान को लेकर जागरूकता फैलाएं और इस अभियान से जुड़े उद्देश्य और फायदे के बारे में उन्हें समझाएं।