बिहारनामा फुल वॉल्यूम कॉर्नर

नीचे से नहीं ऊपर से टॉप में आया बिहार, जल जीवन मिशन में शानदार प्रदर्शन

water
Spread It

जल जीवन मिशन (JJM) के तहत ग्रामीण घरों में नल-जल कनेक्शन देने में बिहार ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। देश के यह टॉप-4 राज्यों में शामिल हो गया है। बिहार में 1.84% घरों में कनेक्शन के साथ 2019 में योजना की शुरुआत हुई थी, जो अब 86.96% ग्रामीण घरों तक पहुंच चुकी है।

गुजरात, महाराष्ट्र और तमिलनाडु कभी बिहार से बहुत आगे थे, अब नल के पानी के कनेक्शन में पीछे हैं। JJM जब शुरू हुआ था, गुजरात में 70.13 फीसदी ग्रामीण घरों में, महाराष्ट्र में 34.02 फीसदी और तमिलनाडु में 17.15% घरों में नल के पानी की आपूर्ति थी।

आज ताजा आंकड़ों के मुताबिक गुजरात में 84.06%, महाराष्ट्र में 65.08% और तमिलनाडु में 34.74% घरों में ही नल का जल पहुंच पाया है। पश्चिम बंगाल में 11.13% , उत्तर प्रदेश में 12.29%, छत्तीसगढ़ में 13.11%, झारखंड में 13.98% और असम में 16.69% घरों में ही नल का जल कनेक्शन हो पाया है, जो देश में पांच सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले राज्यों में शामिल हैं।

पुडुचेरी, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव नल का जल का 100% लक्ष्य प्राप्त किया है।

JJM डैशबोर्ड पर उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, मिशन की शुरुआत के बाद से देश भर में उपलब्ध कराए गए 4.73 करोड़ नल के पानी के कनेक्शन में से 1.46 करोड़ बिहार में हैं। यानी हर तीसरा नया कनेक्शन बिहार का रहा है।