बिहारनामा फुल वॉल्यूम कॉर्नर

सरकार की तरफ से पटनावासियों को 50 CNG बसों का सौगात

CNG-bus
Spread It

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) 24 जुलाई को पटना में 350 एम्बुलेंस और 50 CNG बसों की शुरुआत करने जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के अनुदान के तहत ये 350 एंबुलेंस खरीदी गई हैं। शुरुआती दौर में 20 डीजल बसों को CNG में Convert किया गया था। लेकिन अब 50 नई CNG बसों का परिचालन किया जाएगा। इतनी संख्या में CNG बसों के उतरने से वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर से पटना की शहरी आबादी को राहत मिलेगी। ये सभी CNG बसें पटना के सभी रूटों पर चलेंगी। जिससे 20 हजार लोग रोजाना CNG बसों के जरिए पटना में एक जगह से दूसरी जगह तक पहुंचेंगे।

मार्च 2022 तक डीजल से चलने वाली पटना की सभी सरकारी सिटी बसों को CNG में Convert कर दिया जाएगा। यह CNG बसें GPS, CCTV, पैनिक बटन जैसी सुविधाओं से लैस हैं। इन बसों में ड्राइवर सहित 32 सीटें हैं। बसों में तीन CCTV कैमरे लगाए गए हैं। पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम है। महिला, ट्रांसजेंडर और दिव्यांगजनों के लिए सुरक्षित सीटें भी दी गयी हैं। बता दें कि 10 CNG बसें गांधी मैदान से दानापुर बस स्टैंड के बीच चलेगी, 14 बसें गांधी मैदान से दानापुर रेलवे स्टेशन के बीच, 17 बसें गांधी मैदान से बिहटा IIT के बीच, 7 गांधी मैदान से पटना साहिब स्टेशन के बीच, और 2 गांधी मैदान से दानापुर हांडी साहेब गुरुद्वारा के बीच चलेंगी।

वर्तमान में 350 एंबुलेंस की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। अगस्त तक 500 से अधिक और दिसंबर तक 1000 एंबुलेंस लाभुकों द्वारा खरीदी जाने की उम्मीद है।