फुल वॉल्यूम कॉर्नर बिहारनामा

‘Bihar Sports University Bill’ : अब बिहार के युवा उतरेंगे ओलिंपिक में

bihar sports university bill 2021
Spread It

जापान की राजधानी टोक्यो में हो रहे Tokyo Olympic 2020 अब समाप्त हो चूका है। जिसमें भारत की तरफ से गए सारे खिलाड़ियों ने जम कर अपना प्रदर्शन किया। जिसमें Olympic खेलों के आखिरी दिन भारत का इंतज़ार ख़त्म हुआ और हरियाणा के छोरे ने Tokyo के मैदान में लठ गाड़ कर भारत को गोल्ड दिलाया। इन सब के बीच बिहारवासियों को थोड़ी सी तकलीफ़ ये रही है कि बिहार में टैलेंट की भरमार होने के बावजूद भी बिहार की तरफ से एक भी खिलाड़ी Olympic में नहीं गए। लेकिन अब ये तस्वीर जल्द ही बदलने वाली है। क्यूंकि बिहार में Bihar Sports University बनने जा रहा है।  

बिहार के खिलाड़ियों के लिए खेल मंत्री आलोक रंजन झा की तरफ से एक अच्छी खबर निकल कर सामने आ रही है। बिहार विधानसभा में चल रहे हंगामे के बीच सदन में Bihar Sports University Bill- 2021 पेश कर दिया गया। विधानसभा में खेल मंत्री आलोक रंजन झा ने इस महत्वपुर्ण Bill को पेश किया। Sports University के Bill को सदन में पास भी कर दिया गया जिसके बाद मंत्री Alok Ranjan Jha ने अपनी खुशी जताते हुए सभी विधायकों को शुक्रिया किया और कहा है कि ये दिन ऐतिहासिक है और अब खेल में रुचि रखने वाले बिहार के युवाओ का भविष्य उज्ज्वल होगा।

Bihar Sports University Bill-2021 पास होने के बाद बिहार देश का छठा राज्य बन गया है जहां स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बनने वाली है। इस बार के Olympic में देश को कई पदक मिले, लेकिन  इन पदक को जीतने में बिहार काफी पीछे है इसी को देखते हुए अब नितीश सरकार खेलों के बुनियादी ढांचे पर काम करने पर अपनी नज़र एकत्रित कर रही है। जिससे बिहार में खेलों की बुनियादी ढांचे की संरचना के साथ साथ खेलों में युवाओं का भविष्य बेहतर हो सके इसी क्रम में बिहार स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का निर्माण किया जाएगा। जिसमें खेल से संबंधी डिप्लोमा से ले कर पोस्ट ग्रेजुएशन तक की पढाई होगी। इससे सम्बंधित सभी कॉलेजों में महिलाओं के लिए 33% सीट आरक्षित रहेगी।

बिहार के राजगीर में बन रहे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम और स्पोर्ट्स अकैडमी कैंपस में ही बिहार स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का निर्माण होगा। जिसके लिए अभी 90 एकड़ जमीन में से 65 एकड़ का इस्तेमाल खेल विश्वविद्यालय के लिए होगा और 15 से 20 एकड़ अधिग्रहित जमीन सुरक्षित करने पर इसका इस्तेमाल होगा। क्रिकेट स्टेडियम और स्पोर्ट्स एकेडमी दोनों Bihar Sports University के अंडर होंगे। इस यूनिवर्सिटी में विभिन्न खेलों के लिए पढाई के साथ साथ खेल भी होंगे। जिसमें पढ़ कर और खेल कर बिहार के युवा Olympic में अपने देश और राज्य दोनों का ही नाम रौशन करेंगे।

इसके साथ ही आपको एक और खुशखबरी दे दें कि राजेंद्रनगर स्थित मोइनुल हक स्टेडियम को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विकसित करने की योजना बनाई जा रही है। साथ ही हर जिले में 10 मीटर की शूटिंग रेंज बनेगी। इनसब के साथ साथ खेल के क्षेत्र में और भी कई योजनाओं पर विचार विमर्श हो रहा है। अब बिहार के युवा क्रिकेट के साथ साथ अन्य खेलों में भी अपना जलवा बिखेरने को को तैयार होंगे।