फुल वॉल्यूम 360° विदेश

ये है Carbon Dioxide वाला पहाड़

Carbon Dioxide mountain
Spread It

प्रकृति, ईश्वर की सबसे कीमती तोहफों में से एक है। अगर हम सुबह के समय शांति से बगीचे में बैठे हुए है, तो हम प्रकृति की मीठी आवाज और खूबसूरती का आनन्द ले सकते है। मगर दुख की बात ये है कि भगवान के द्वारा इंसानों को दिये गये इस सुंदर तोहफे में बढ़ती टेक्नोलॉजी की वजह से लगातार तबाही हो रही है। लगातार बढ़ते CO2 की वजह से पॉलुशन में भी बढ़ोतरी हो रही है और इसका असर हम जंगलों में लगी भीषण आग और पिघलते हुए ग्लेशियर्स पर देख सकते हैं। Iceland में CO2 को सोखने के लिए दुनिया का सबसे बड़ा प्लांट बनाया गया है। ये प्लांट CO2 को चट्टान में बदल देता है।

Switzerland की स्टार्ट-अप कम्पनी Climeworks और Iceland की Carbfix द्वारा बनाए गए इस प्लांट में चार यूनिट हैं, जिसमें से प्रत्येक, दो मेटल बॉक्स से बनी हैं। यह प्लांट, हर साल 4,000 टन कार्बन डाइऑक्साइड को हवा से बाहर निकाल सकता है, जो की लगभग 870 कारों से होने वाले वार्षिक एमिशन के बराबर है। वर्तमान में दुनिया भर में ऐसे, 15 Direct air capture प्लांट काम कर रहे हैं, जो हर साल 9,000 टन से अधिक CO2 कैप्चर कर रहे हैं। इस प्लांट का नाम Orca रखा गया है। यह नाम Iceland के वर्ड Orka से लिया गया है, जिसका मतलब एनर्जी होता है।

इस प्लांट के काम करने का तरीका अनोखा है। कार्बन डाइऑक्साइड को कलेक्ट करने के लिए, प्लांट, एक कलेक्टर में हवा खींचने के लिए फैन का यूज करता है, जिसके अंदर एक फिल्टर मटेरियल होती है। एक बार जब फिल्टर मटेरियल CO2 से भर जाती है, तो कलेक्टर बंद हो जाता है और मटेरियल से CO2 को फ्री करने के लिए टेम्परेचर बढ़ा दिया जाता है जिसके बाद यह कार्बन डाइऑक्साइड गैस, कलेक्ट की जा सकती है। इसके बाद CO2 को पानी के साथ मिलाया जाता है और 1,000 मीटर की गहराई पर पंप किया जाता है, जहां CO2, धीरे-धीरे चट्टान में बदल जाता है।

डायरेक्ट एयर कैप्चर अट्मॉस्फेर से कार्बन डाइऑक्साइड निकालने वाली कुछ टेक्नोलॉजीज में से एक है और वैज्ञानिकों द्वारा इसे ग्लोबल वार्मिंग को सीमित करने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। ये टेक्नोलॉजीज, क्लाइमेट चेंज के खिलाफ लड़ाई में एक मेजर टूल बन सकती हैं। ओर्का इकलौती ऐसी कंपनी है जो CO2 को रिसाइकिल करने के बजाय स्थायी रूप से नष्ट कर देती है। International Energy Agency के अनुसार, पिछले साल ग्लोबल CO2 एमिशन कुल 31.5 बिलियन टन था। अमेरिकी तेल फर्म Occidental वर्तमान में सबसे बड़ी Direct-Air-Capture सुविधा विकसित कर रही है, जो कि टेक्सास के कुछ तेल क्षेत्रों के पास खुली हवा से हर साल 1 मिलियन टन कार्बन डाइऑक्साइड खींचने के लिए है।

भगवान ने ये प्रकृति बहुत ही खूबसूरत बनाई है जिसे देखते हुए हमारी आँखे कभी नहीं थक सकती, लेकिन हम भूल जाते हैं कि मानव जाति और प्रकृति के बीच के रिश्तों को लेकर हमारी भी कुछ जिम्मेदारियाँ हैं। इस प्लांट के बनने से, अब ग्लोबल वार्मिंग को कंट्रोल करने में काफी मदद मिल सकती है, जो की प्रकृति को बचाने में हमारा एक कदम होगा।

Add Comment

Click here to post a comment