फुल वॉल्यूम 360° खेल

भारतीय Hockey का स्वर्णिम दौर लौट रहा है, चार दशक बाद है मेडल जीतने का मौका

hockey team
Spread It

भारतीय हॉकी का स्वर्णिम दौर लौट रहा है! टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) में भारतीय हॉकी टीम (Indian Hockey Team) ने इतिहास रच दिया है। भारतीय हॉकी टीम ने क्वार्टर फाइनल मुकाबले में ग्रेट ब्रिटेन को 3-1 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 1972 के बाद पहली बार भारतीय हॉकी टीम ओलंपकि मुकाबले के सेमीफाइनल में पहुंची है। सेमीफाइनल में टीम इंडिया का मुकाबला बेल्जियम (Belgium) से होगा।

ओलंपिक के इतिहास की बात की जाए तो भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने 11 मेडल जीते हैं। इसमें 8 गोल्ड मेडल शामिल हैं। टीम ने 1928, 1932, 1936, 1948, 1952, 1956, 1964 और 1980 में गोल्ड मेडल जीता। इसके अलावा भारतीय टीम 1960 में सिल्वर मेडल जीतने में सफल रही थी। इसके अलावा 1968 और 1972 में ब्रॉन्ज मेडल मिला। हालांकि टीम को पिछले 41 साल से कोई मेडल नहीं मिला है। टोक्यो ओलंपिक में भारतीय टीम इस लंबे सूखे का खत्म करना चाहेगी। टोक्यो में भारत ने अब तक 6 मुकाबले खेले हैं और 5 में जीत दर्ज की। एक मैच में उसे ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार झेलनी पड़ी थी। आज की यह जीत टीम की इस ओलंपिक में लगातार चौथी जीत भी है।

वहीं आज बैडमिंटन में भारतीय खिलाड़ी पीवी सिंधू (PV Sindhu) ने कांस्य पदक जीत कर इतिहास रच दिया है। पीवी सिंधू ओलपिंक में 2 मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला बन गयी हैं।