फुल वॉल्यूम 360° देश विविध

Sustainable Development Goals India Index : नीति आयोग ने जारी की पूरी लिस्ट, जानें कौन है टॉप राज्य

niti-aayog
Spread It

NITI Aayog, जो की भारत सरकार द्वारा गठित एक थिंक टैंक संस्‍थान है, ने अपनी Sustainable Development Goals (SDGs) यानी की ‘सतत विकास लक्ष्य’ पर अपनी तीसरी रिपोर्ट 2020-21 जारी कर दी है। इस बार की रिपोर्ट में केरल (Keral) टॉप स्थान पर रहा है, जबकि बिहार (Bihar) का प्रदर्शन सबसे खराब रहा है। हालांकि बिहार, असम और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) ने पिछली रैंकिंग के मुक़ाबले अपने प्रदर्शन में सुधार किया है।

इस रिपोर्ट में अंकों के लिहाज से सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले टॉप 5 स्थानों में पहला स्थान केरल को मिला है जिसे 75 अंक प्राप्त हुए हैं। इसके बाद 74 अंकों के साथ हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) और तमिलनाडु (Tamil Nadu) संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर रहे। तीसरे नंबर पर 72 अंक के साथ आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh), गोवा (Goa), कर्नाटक (Karnataka) और उत्तराखंड रहे। इसके साथ ही 71 अंक प्राप्त करके सिक्किम (Sikkim) चौथे नंबर पर रहे और पांचवें नंबर पर 70 अंक के साथ महाराष्ट्र (Maharashtra) रहे।

अगर सबसे ख़राब प्रदर्शन करने वाले राज्यों की बात करें तो 52 अंकों के साथ बिहार सबसे आख़िरी पायदान पर है जबकि 56 अंकों के साथ झारखंड और 57 अंकों के साथ असम उसके ऊपर है। इस बार सबसे ज़्यादा सुधार करने वाले राज्यों में हरियाणा, उत्तराखंड और मिज़ोरम शामिल है। उद्योग, आविष्कार और इंन्फ्रास्ट्रक्चर में गुजरात और दिल्ली टॉप पर रहे हैं। ग़रीबी निवारण में तमिलनाडु और दिल्ली पहले पायदान पर हैं जबकि भूख को ख़त्म करने के मामले में केरल और चंडीगढ़ सबसे आगे हैं। हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़ ने आर्थिक विकास में हाईएस्ट स्कोर किया है।

Sustainable Development Goals के लिए इंडेक्स स्वास्थ्य, शिक्षा, लिंग, आर्थिक विकास, संस्थानों, जलवायु परिवर्तन और पर्यावरण सहित विभिन्न मानकों पर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की प्रगति का मूल्यांकन करता है। नीति आयोग द्वारा SDG India Index को सालाना सामाजिक, आर्थिक और पर्यावरणीय क्राइटेरिया के आधार पर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की प्रगति का मूल्यांकन करने के लिए अरेंज किया जाता है। नीति आयोग ने संयुक्त राष्ट्र संघ की भारतीय शाखा के साथ मिलकर 2018 में सतत विकास लक्ष्य इंडेक्स की शुरुआत की थी।