फुल वॉल्यूम 360° खेल

SRH को मिली इस सीजन की दूसरी जीत, क्या यहीं तक था IPL में Warner का सफर ?

David-Warner
Spread It

27 सितंबर को इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के चौदहवें सीजन का 40वां मैच सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) और राजस्थान रॉयल्स (RR) के बीच खेला गया। इस IPL सीजन के अंक तालिका में सब से निचले पायदान पर चल रही सनराइजर्स हैदराबाद ने इस मुकाबले में अपने टीम में चार बदलाव किये थे। इसमें टीम के अनुभवी खिलाड़ी और पूर्व कप्तान डेविड वार्नर का बहार होना भी शामिल था। इस मुकाबले में हैदराबाद ने राजस्थान रॉयल्स को 7 विकेट से हरा दिया। इस सीजन में हैदराबाद की यह दूसरी जीत है।

SRH ने इस मुकाबले से पहले प्लेइंग इलेवन से दिग्गज ओपनर डेविड वार्नर (David Warner) को बाहर कर दिया था। सनराइजर्स के इस फैसले के बाद सभी के मन में यही सवाल है कि क्या वार्नर का इस टीम के लिए पिछला मुकाबला ही उनका आखिरी मैच साबित होने वाला है! टीम के कोच ट्रेवर वेलिस ने इस बारे में मैच के बाद बयान दिया।

मैच के बाद टीम के कोच ने कहा, “हम फाइनल में नहीं पहुंच सकते तो इसी वजह से एक फैसला लिया कि हम चाहते हैं हमारे सभी युवा खिलाड़ी अनुभव हासिल करें। यह अनुभव ना सिर्फ मैच का बल्कि मैदान पर समय बिताने का भी और यह सभी मैच खेलने के लिए मैदान पर भी कदम रखें।”

जानें क्यों वार्नर को दिखाया गया बाहर का रास्ता

वार्नर को बाहर करने की वजह बताते हुए बेलिस ने कहा, “हमारे पास कई ऐसे युवा खिलाड़ी हैं जिन्होंने मैदान पर कदम भी नहीं रखा है रिजर्व खिलाड़ी के तौर पर भी उनको मौका नहीं मिल पाया है। इसी वजह से हम यह चाहते थे कि उनको मौका दिया जाए मैदान पर जाएं और मैच खेलने का अनुभव हासिल करें। हो सकता है यह चीज अगले कुछ मुकाबलों तक जारी रहे। हमें एक या दो दिन में बैठकर इस एक टीम चुननी है जिसमें 18 खिलाड़ियों को शामिल किया जाए।”

“जी, बिल्कुल वार्नर होटल में बैठकर इस मैच को अच्छे से देख रहे थे और अपना पूरा समर्थन टीम के सभी खिलाड़ियों को दे रहे थे। यह बिल्कुल वैसे ही था जैसा कि बाकी खिलाड़ी कर रहे थे। हम सभी एक साथ हैं हमारे अंदर किसी को लेकर कुछ भी नहीं।”

वार्नर को प्लेइंग इलेवन से बाहर किए जाने पर सब के जेहन में सवाल यही है कि क्या अब आइपीएल (IPL) में उनका सफर इस टीम के लिए खत्म हो गया, इस पर कोच बोले “मैं आपको यह बात साफ कर देना चाहूंगा इस इस बारे में किसी तरह की कोई चर्चा नहीं हुई है। यह मेगा आक्शन से पहले टूर्नामेंट का आखिरी साल है और यह सभी फैसले बाद में लिए जाएंगे। पिछले कई सालों में उन्होंने सनराइजर्स की टीम को अपना अहम योगदान दिया है और उनका काफी सम्मान भी किया जाता है। जितने सारे रन उन्होंने बनाए हैं, उसको देखने के बाद तो यह कहा जा सकता है कि अभी आइपीएल में उनके बल्ले से काफी सारे रन और निकलने वाले हैं।”