खेल फुल वॉल्यूम 360°

दुनिया के नंबर 1 पहलवान बने भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया

bajrang-punia
Spread It

भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया ने एक और उपलब्धि हासिल करके देश का नाम रोशन किया है। उन्होंने एक बार फिर पहलवानी में नंबर वन स्थान हासिल किया है।

उन्होंने Matteo Pellicone Ranking Series में लगातार दूसरा स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने 65 किग्रा फ्री स्टाइल इवेंट फ़ाइनल में मंगोलिया के Tulga Tumur Ochir को 2-2 से हराया। उन्होंने अंतिम 30 सेकेंड में 2 प्वाइंट्स हासिल किए और विजेता घोषित हुए।

हरियाणा के इस पहलवान ने सेमीफाइनल में यूएसए के जोसेफ क्रिस्टोफर को 6-3 के अंतर से हराया, जबकि उनका क्वार्टर फाइनल में तुर्की के सेलिम कोज़ान से सामना हुआ, जिसे उन्होंने 7-0 से हराया।

इस सीरीज के शुरू होने से पहले बजरंग अपने वजन 65 किग्रा वर्ग की रैंकिंग में दूसरे स्थान पर थे लेकिन यहां 14 अंक हासिल करने से वह शीर्ष पर पहुंच गये। पुनिया फ़िलहाल अपने वजन वर्ग में नंबर वन पहलवान हैं।

इस Matteo Pellicone Ranking Series में भारत की महिला पहलवान विनेश फोगट ने 53 किलोग्राम का खिताब जीतकर अपना दूसरा स्वर्ण पदक जीता।

26 साल के विनेश ने कनाडा के डायना वीकर को 4-0 से हराकर पूरे टूर्नामेंट में एक अंक गंवाए बिना स्वर्ण पदक जीता। इस टूर्नामेंट में उतरने से पहले विनेश तीसरे रैंक पर थी लेकिन गोल्ड मेडल जीतकर वह फिर से नंबर एक खिलाड़ी बन गई है।

बजरंग पूनिया एक भारतीय पहलवान हैं। 7 साल की उम्र में उन्होंने कुश्ती शुरू की। उन्होंने 2018 के एशियन खेलों में पुरुषों की 65 किलोग्राम वर्ग स्पर्धा के फाइनल में जापान के पहलवान तकातानी डियाची को एकतरफा मुकाबले में 11-8 से शिकस्त दी। बता दें कि बजरंग पूनिया ने पहलवानी के साथ ही भारतीय रेलवे में टिकट चेकर (TTE) का भी काम किया था। उन्होंने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में तीन मैडल जीते हैं।

Add Comment

Click here to post a comment