खेल फुल वॉल्यूम 360°

परिवार को गरीबी से निकालने की धुन ने बनाया फुटबॉल का गॉड

Diego Maradona
Spread It

फुटबॉल के लीजेंड कहे जाने वाले ‘डिएगो माराडोना’ का ‘कार्डियक अरेस्ट’ से निधन हो गया है। माराडोना को सबसे महान खिलाड़ियों में से एक के रूप में माना जाता है, अर्जेंटीना में प्रशंसकों ने उन्हें ‘El Dios’ के रूप में संदर्भित किया – जिसका अर्थ ‘द गॉड’ है। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। माराडोना को हाल ही में उनके ब्रेन क्लॉट हटाने के लिए एक सर्जरी के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी। अचानक तबियत बिगड़ने के बाद से उनका ब्रेन क्लॉट से निधन हो गया।

डिएगो मेराडोना का पूरा नाम डिएगो आर्मैन्ड़ो मेराडोना था और उनका जन्म 30 अक्टूबर 1960 को अर्जेंटीना के लानुस में एक गरीब परिवार में हुआ था। तीन बेटियों के बाद वे पहले पुत्र थे और उनके दो छोटे भाई भी हैं। तीन साल की उम्र में गिफ्ट मिली फुटबॉल, उनकी ज़िन्दगी का बहुत बारे हिस्सा बन गयी। माराडोना ने अपने करियर की शुरुआत 16 साल की उम्र में अर्जेंटीना की जूनियर टीम के साथ की थी। इसके बाद वह दुनिया के सर्वकालिक महान फुटबॉलर में शामिल हो गए।

माराडोना को ‘हैंड ऑफ गॉड’ भी कहा जाता है। 1986 के फीफा वर्ल्ड कप क्वार्टर फाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ माराडोना का गोल काफी विवादित रहा। यह गोल 22 जून, 1986 को मैक्सिको सिटी के एज़्टेका स्टेडियम में हुआ। गेंद उनके कंधे के नीचे बाजू से लगकर गोल पोस्ट में गई थी। फुटबॉल एसोसिएशन नियमों के तहत, माराडोना को अपने हाथ का उपयोग करने के लिए एक ‘येल्लो कार्ड’ देना चाहिए था और गोल को अस्वीकार्य करना चाहिए था, लेकिन रेफरी उसे देख नहीं सके थे। इसे गोल करार दे दिया गया था। माराडोना ने इस गोल को ईश्वर की मर्जी बताते हुए ‘हैंड ऑफ गॉड’ करार दिया था।

माराडोना बोका जूनियर्स, नपोली और बार्सिलोना के लिए क्लब फुटबॉल खेल चुके हैं। दुनिया भर में उनकी बहुत फैन फॉलोइंग रही है। ड्रग्स और शराब की लत के चलते वह कई बार विवादों में भी रह चुके हैं। 1997 में अपने जन्मदिन पर फुटबॉल से संन्यास लिया।

माराडोना के निधन से पूरी दुनिया को बहुत बार झटका लगा है। माराडोना के फैंस से लेकर प्रसिद्ध सेलिब्रिटी भी उनके निधन का शोक माना रहे हैं। लियोनेल मेस्सी ने अपने इंस्टाग्राम पर इस दुःख को साझा करते हुए लिखा “सभी अर्जेंटीना और फुटबॉल के लिए एक बहुत दुखद दिन। उसने हमें छोड़ दिया है लेकिन वह हमें कभी नहीं छोड़ेगा क्योंकि डिएगो शाश्वत है। मैं उन सभी खूबसूरत क्षणों को अपने पास रखूंगा जब मैं उनके साथ रहता था और मैं उनके सभी परिवार और दोस्तों के लिए अपनी संवेदना भेजना चाहता हूं। RIP. “

Add Comment

Click here to post a comment

Featured