फुल वॉल्यूम 360° खेल

IPL 2021 : अभी आठों टीमों के लिए बाकी है प्लेऑफ की उम्मीद, जानें कैसी है किस टीम की स्थिति

ipl
Spread It

आईपीएल सीजन 14 (IPL-14) धीरे-धीरे अपने अंजाम की ओर बढ़ रहा है। जैसे-जैसे आईपीएल के इस सीजन का अंत नजदीक आ रहा है वैसे-वैसे प्लेऑफ की जंग भी काफी दिलचस्प होती जा रही है। इस सीजन के अब तक 43 लीग मुकाबले खेले जा चुके हैं और 13 मुकाबले बाकी हैं। जहाँ चेन्नई सुपर किंग्स (CSK), दिल्ली कैपिटल्स (DC) और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) अंक तालिका में शीर्ष पर बानी हुई हैं और प्लेऑफ के बेहद करीब हैं। वहीं राजस्थान रॉयल्स (RR) और सनराइज़र्स हैदराबाद (SRH) की हालत काफी ख़राब है और दोनों ही टीमें अंक तालिका में सब से निचले पायदान पर हैं। दिलचस्प बात यह है की अभी आठों ही टीमों के पास प्लेऑफ़ में जगह बनाने का मौका बरक़रार है।

आईपीएल-14 में सभी 8 टीमों की अब तक की स्थिति –

चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK)
एमएस धोनी (MS Dhoni) की अगुआई वाली चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लिए आईपीएल के पिछले सीजन का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा था, जहां वह 7वें स्थान पर रही थी। लेकिन आईपीएल 2021 में चेन्नई का प्रदर्शन शानदार रहा है और वह अभी अंक तालिका में पहले नंबर पर है। चेन्नई ने 10 मुकाबलों में 8 जीत और 2 हार के साथ 16 अंक जोड़े हैं। इसके साथ ही उसका नेट रनरेट +1.069 है। चेन्नई के पास अभी भी 4 मुकाबले शेष हैं और उसने प्लेऑफ में अपनी जगह लगभग बना ली है। अगर चेन्नई की टीम आज 30 सितंबर को सनराइजर्स के खिलाफ अपना मुकाबला जीत लेती है, तो वह प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बन जाएगी।

दिल्ली कैपिटल्स (DC)
श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) की अगुआई में पिछले सीजन फाइनल तक का सफर तय करने वाली दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) ने इस साल ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की अगुआई में आईपीएल 2021 में भी शानदार खेल दिखाया है। ऋषभ पंत की कप्तानी वाली यह टीम अब तक 11 में से 8 मुकाबला जीत चुकी हैं। जबकि दिल्ली को महज तीन मुकाबलों में हार मिली है और उसके अंकतालिका में 16 अंक हैं। दिल्ली का नेटरनरेट फिलहाल +0.562 है। चेन्नई की तरह ही दिल्ली की टीम भी लगभग प्लेऑफ में पहुंच चुकी है। दिल्ली को अभी प्लेऑफ से पहले अभी तीन मैच खेलने हैं और तीनों में से एक मैच जीतते ही दिल्ली प्लेऑफ़ में पहुँच जाएगी।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB)
विराट कोहली की अगुआई वाली आरसीबी (RCB) जिसने अब तक एक भी आईपीएल खिताब नहीं जीता है। लेकिन इस सीजन में टीम का अब तक का प्रदर्शन लाजवाब रहा है। 29 सितंबर को हुए मुकाबले में आरसीबी ने राजस्थान को 7 विकेट से हरा कर इस सीजन की सातवीं जीत दर्ज़ की। हालांकि अभी तक आरसीबी ने 11 मुकाबलों में से चार हारे भी हैं और उसके कुल 14 अंक हैं। इस दौरान आरसीबी का नेट रनरेट -0.200 का है। दिल्ली की तरह ही आरसीबी को अब प्लेऑफ में पहुंचने के लिए अगले 3 मैचों में से एक में जीत दर्ज करनी ही होगी।

कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR)
दो बार की आईपीएल चैम्पियन रही कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने अब तक इस सीजन 11 मैच खेलकर 5 जीते हैं। इस दौरान केकेआर को 6 मुकाबलों में हार भी मिली है और उसके 10 अंक हैं। अब केकेआर को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए बाकी तीनों मैच जीतने होंगे। कोलकाता को इन तीन मुकाबलों में पंजाब किंग्स, सनराइजर्स हैदराबाद और राजस्थान रॉयल्स का सामना करना है। ये तीनों टीमें अभी प्वाइंट्स टेबल में आखिरी तीन पायदान पर है, जो कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए राहत की बात है। केकेआर का नेट रनरेट फिलहाल +0.363 का है।

मुंबई इंडियंस (MI)
रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई इंडियंस रिकॉर्ड पांच बार आईपीएल में चैम्पियन रह चुकी है। लेकिन डिफेंडिंग चैम्पियन मुंबई का इस सीजन में प्रदर्शन काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा है। मुंबई इंडियंस अभी 11 मैचों में से 5 जीत और 6 हार के साथ अंक तालिका में पांचवें स्थान पर है। इस दौरान उसका नेट रनरेट -0.453 का है। मुंबई इंडियंस को अगले तीन मुकाबलों में दिल्ली कैपिटल्स, राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद का सामना करना है। इन तीनों मुकाबलों को जीतकर वह प्लेऑफ में जगह बना सकती है।

पंजाब किंग्स (PBKS)
आईपीएल (IPL) के इतिहास में पंजाब किंग्स (Punjab Kings) का प्रदर्शन काफी ख़राब रहा है। टीम में बड़े नामों के होने के बावजूद पंजाब इस सीजन भी टूर्नामेंट से बाहर होने की कगार पर है। केएल राहुल की कप्तानी वाली टीम ने अबतक 11 में से 4 मुकाबले जीते हैं और उसके 8 अंक हैं। सात मुकाबलों में हार झेलनी वाली पंजाब किंग्स को प्लेऑफ की उम्मीद बनाए रखने के लिए अगले तीन मुकाबले जीतने ही होंगे। इन तीन मुकाबलों में उसका सामना कोलकाता नाइटराइडर्स, आरसीबी और चेन्नई सुपर किंग्स से होना है। एक भी मैच हारते ही वह प्लेऑफ की रेस से बाहर हो जाएगी।

राजस्थान रॉयल्स (RR)
आईपीएल (IPL) के पहले सीजन में खिताब जीतने के बाद राजस्थान रॉयल्स का प्रदर्शन फीका रहा है। पिछले सीजन राजस्थान की टीम आखिरी पायदान पर रही थी और इस सीजन भी लगभग यही स्थिति है। संजू सैमसन की कप्तानी वाली इस टीम ने इस सीजन अहम मौकों पर गलतियां की हैं, जिसका खामियाजा उसे भुगतना पड़ा है। 29 सितंबर को आरसीबी के खिलाफ टीम का स्कोर एक समय 11 ओवरों में एक विकेट पर 100 रन था। लेकिन वह 150 रन भी नहीं बना सकी। राजस्थन रॉयल्स ने अबतक 11 में से 4 मुकाबले जीते हैं और उसके 8 अंक हैं। ऐसे में राजस्थान अपने दम पर प्लेऑफ में नहीं पहुंच सकती है। यदि वह अगले तीन मुकाबले जीत लेती है, तब भी उसे दूसरी टीमों के नतीजों पर निर्भर रहना पड़ेगा।

सनराइजर्स हैदराबाद (SRH)
सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) का आईपीएल इतिहास अच्छा रहा है और वह 2016 में चैम्पियन भी बन चुकी है। लेकिन सनराइजर्स के लिए यह सीजन किसी बुरे सपने से कम नहीं रहा है और वह प्लेऑफ से लगभग बाहर हो चुकी है। इस टीम ने अब तक 10 में से महज 2 मुकाबले जीते हैं और उसके अंकतालिका में केवल 4 अंक हैं। सनराइजर्स हैदराबाद अपने बाकी चार मुकाबलों में चेन्नई सुपरकिंग्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, आरसीबी और मुंबई इंडियंस का सामना करेगी। अब सनराइजर्स चारों मैच जीतने और अन्य मैचों के नतीजे अनुकूल रहने की उम्मीद पर होंगे, लेकिन इसके लिए उन्हें किसी चमत्कार का इंतजार करना होगा। इन चार में से एक भी मैच हारते ही वह पूरी तरह प्लेऑफ की रेस से आउट हो जाएगी।