फुल वॉल्यूम 360° खेल

भारत के Sumit ने रचा इतिहास, Tokyo Paralympics में भारत की झोली में आया दूसरा गोल्ड

sumit-antil
Spread It

सोनीपत, हरियाणा के रहने वाले सुमित आंतिल (Sumit Antil) ने टोक्यो पैरालिम्पिक्स (Tokyo Paralympics) में इतिहास रच दिया है। अपने ही बनाए रिकार्ड को तोड़ते हुए सुमित ने जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल (Gold medal) अपने नाम किया। 

सुमित ने पहले थ्रो में वर्ल्ड रिकार्ड तोड़ते हुए 66.95 मीटर की थ्रो फेंकी। दूसरी थ्रो उन्होंने अपना नया रिकार्ड तोड़ते हुए 68.08 मीटर का फेंका। सुमित ने अपना पाँचवा और आख़िरी थ्रो 68.55 मीटर का फेंकते हुए वर्ल्ड रिकार्ड बना गोल्ड मेडल अपने नाम किया।

सुमित के गोल्ड के साथ भारत के टोक्यो पैरालिम्पिक्स (Tokyo Paralympics) में 7 मेडल हो गए हैं। भारत का टोक्यो पैरालिम्पिक्स (Tokyo Paralympics) में यह दूसरा गोल्ड है।

आपको बता दें, सुमित एक रेस्लर थे पर ऐक्सिडेंट की वजह से 2015 में उन्हें अपना एक पैर गंवाना पड़ा पर सुमित ने हिम्मत नहीं हारी और उन्होंने आर्टिफ़िशल लेग के साथ जैवलिन थ्रो की प्रैक्टिस शुरू की और परिणाम आज हम सभी के सामने है। हौसले बुलंद हों तो कोई भी परेशानी आपका रास्ता नहीं रोक सकती।