फुल वॉल्यूम 360° खेल महिला

भारतीय तिकड़ी ने World Archery Championship में रचा इतिहास

Indian Compound Women
Spread It

अमेरिका के यांकटन में चल रहे विश्व तीरंदाज़ी चैंपियनशिप (World Archery Championship) में भारतीय तीरंदाजों का बोलबाला रहा। भारतीय तीरंदाज वीजे सुरेखा (VJ Surekha), मुस्कान किरार (Muskaan Kirar) और प्रिया गुर्जर (Priya Gurjar) ने विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप में इतिहास रच दिया है। इन तीनो ने भारत के लिए कंपाउंड महिला टीम को रजत पदक दिलाने में सफल रही। इस मुकाबले में भारतीय महिला कंपाउंड टीम कोलंबिया से हार गई। जिसके चलते टीम को सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा। भारत तीरंदाजी विश्व चैंपियनशिप में अपने पहले स्वर्ण पदक के लिए चुनौती पेश कर रहा था। भारत अब तक स्वर्ण पदक जीतने में असफल रहा है लेकिन उसने सबसे अधिक 10 बार पोडियम पर जगह बनाई है। इस दौरान भारत ने आठ बार फाइनल में चुनौती पेश की लेकिन उसे हर बार सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा।

वहीं तीरंदाजों की मिश्रित जोड़ी वीजे सुरेखा (VJ Surekha) और अभिषेक शर्मा (Abhishek Sharma) ने भी विश्व तीरंदाज़ी चैंपियनशिप में रजत पदक (Silver Medal) जीत क्र देश का मान बढ़ाया है।

कोलंबिया की टीम से हारी भारत की तीरंदाज़ तिकड़ी

कोलंबिया की सारा लोपेज, एलेजांद्रा उसक्वियानो और नोरा वाल्डेज की तिकड़ी ने वीजे सुरेखा, मुस्कान किरार और प्रिया गुर्जर की सातवीं वरीयता प्राप्त महिला टीम को 224-229 से हरा क्र गोल्ड मेडल पर कब्जा किया। रैंकिंग दौर में शीर्ष पर रही कोलंबियाई टीम ने 15 बार 10 अंक पर निशाना साधा और इस दौरान उनके पांच निशाने बिलकुल बीच में लगे। इस प्रकार गोल्ड के लिए प्रबल डावड़ै पेश कर रही भारतीय टीम को दूसरे स्थान से संतोष करना पड़ा और भारत की झोली में विश्व तीरंदाज़ी चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल प्राप्त हुआ।

Add Comment

Click here to post a comment