फुल वॉल्यूम 360° देश

फिल्मों से निकल कर उड़ती कार की सवारी अब है मुमकिन

hybrid flying car
Spread It

हॉलीवुड और बॉलीवुड की फिल्मों में आपने कार को उड़ते तो जरूर देखा होगा। और देखते हुए ये भी सोचा होगा कि काश ये रियलिटी में भी होता। ऑफिस जाने में ट्रैफिक की समस्या खत्म हो जाती। तो लीजिये आपके फेवरेट फिल्मों से नीलकर उड़ती कार की सवारी आपके लिए मौजूद है। आपका ये इंतज़ार जल्द खत्म होने वाला है। आप जल्द अपने घर से उड़ान भर ऑफिस के पास लैंड कर सकते हैं। चेन्नई बेस्ड स्टार्टअप एशिया (Asia) की पहली हाइब्रिड फ्लाइंग कार (Hybrid Flying Car) लॉन्च करने वाली है।

अब जल्द ही मेड इन इंडिया (Made in India) की पहली फ़्लाइंग कार (Flying Car) लॉन्च होने वाली है। आपको बता दें कि एशिया की पहली हाइब्रिड फ्लाइंग कार भारत में बनी है। यह फ़्लाइंग कार एशिया की पहली हाइब्रिड फ्लाइंग कार है। आप इस हाइब्रिड फ्लाइंग कार (Hybrid Flying Car) के जरिये आप बैगेर ट्रैफिक के चंद समय में अपने ऑफिस पहुंच सकते है। इस फ्लाइंग कार का उपयोग ट्रांसपोर्ट और कार्गो के अलावा मेडिकल एमरजेंसी सर्विस के लिए भी किया जा सकता है।

इसको लेकर देश के उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Aviation Minister Jyotiraditya Scindia) ने भी अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट के जरिये हाइब्रिड फ्लाइंग के कॉन्सेप्ट के बारे में बताया है। इसे चेन्नई बेस्ड स्टार्टअप की यंग टीम बना रही है।

देश की पहली Vinata Aeromobility Hybrid Flying Car को 5 अक्टूबर को लॉन्च किया जाएगा। साथ ही Vinata Aeromobility, दुनिया की सबसे बड़ी हेलिटेक प्रदर्शनी (Helitech Expo) – एक्सेल, लंदन (ExCeL London) में इसे लॉन्च करने की तैयारी में है। इस कार में डिजिटल इंस्ट्रूमेंट (digital instrument) के साथ इसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (artifical Intelligence) के साथ तैयार किया गया है। जिससे इस कार की ड्राइविंग तथा फ्लाइंग और बेहतर होगी।

कंपनी का दावा है कि ये कार बेहद शानदार है। इसका एक्सटीरियर (Exterior) बेहद आकर्षक है। इसमें GPS ट्रैकर भी लगाया गया है। इसके साथ बोर्ड पर मनोरंजन की सुविधा भी दी गई है। कार में पैनोरमिक विंडो कैनोपी दिया गया है। इससे 360-डिग्री व्यू मिलता है। अब अगर इस कार के वजन की बात करें तो इस कार का वजन लगभग 1100 किलोग्राम है और ये 1300 किलोग्राम तक के वजन को लेकर टेकऑफ कर सकता है।

इस बेहतरीन हाइब्रिड फ्लाइंग कार को डुअल ट्रैवलर के लिए डिजाइन किया गया है। इसकी स्पीड 100-120 किमी/घंटा तक जा सकती है। मैक्सिमम फ्लाइट टाइम 60 मिनट है और ये 3,000 फीट तक ऊपर जा सकती है। यह कार बायो-फ्यूल (Bio-Fuel) का यूज करती है। सेफ्टी का भी इसमें काफी ख्याल रखा गया है। इसमें कई मोटर्स और प्रोपेलर्स दिए गए हैं। इससे अगर एक या उससे अधिक मोटर या प्रोपेलर फेल भी होता है फिर भी ये सही-सलामत लैंड कर जाएगी। पावर खत्म होने पर बैकअप पावर से इलेक्ट्रिसिटी मोटर भी दिया जाएगा।