फुल वॉल्यूम 360° देश विविध

युवाओं को संविधान के निर्माण से रूबरू कराने के लिए शुरू की गई e-Photo प्रदर्शनी

Anurag-Thakur
Spread It

भारतीय संविधान को जन-जन तक पहुंचाने के लिए केन्द्रीय सूचना व प्रसारण मंत्रालय विशेष अभियान शुरू कर रहा है। इस अभियान के तहत युवा व शिक्षा मंत्रालय के सहयोग से ज्यादा से ज्यादा युवाओं को संविधान के निर्माण के सफर व इसके महत्व के बारे में बताया जाएगा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ई-फोटो प्रदर्शनी (ePhoto exhibition) के जरिए युवा देश के संविधान को आसानी से समझ सकेंगे।

संविधान के निर्माण पर e-Photo प्रदर्शनी

संविधान के निर्माण पर आधारित ई-फोटो (e-Photo) प्रदर्शनी के शुरुआत के मौके पर केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने कहा कि संविधान को जिन सिद्धांतों और विचारों के साथ बनाया गया था, हम सबकी जिम्मेदारी बनती है कि हम इसे आगे ले कर जाएं। उन्होंने कहा कि लोगों को खासकर युवाओं को संविधान के बनने के सफर व इसमें निहित कर्तव्यों व अधिकारों के प्रति जागरूक होना चाहिए। तभी लोग इसमें बताए गए सिद्धांतों और विचारों को संजोकर रख सकेंगे और प्रचारित कर सकेंगे।

अधिकार के साथ कर्तव्य का होगा बोध

उन्होंने कहा कि खास तौर पर इस समय जब हम आजादी के 75वें वर्ष के मौके पर आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं। ऐसे में युवा ये जान सकेंगे कि संविधान बनाने की प्रक्रिया क्या थी, साथ ही इससे न सिर्फ संविधान को समझने और जानने का मौका मिलेगा, बल्कि उनके अधिकार के बारे में भी जानकारी मिलेगी क्योंकि अधिकारी के जरिए ही कर्तव्य का बोध हो सकेगा।

कॉलेज व स्कूलों में संविधान पर विशेष कार्यक्रम

संविधान की जानकारी के प्रचार- प्रसार के लिए युवा व शिक्षा मंत्रालय का सहयोग लिया जाएगा। इस कार्यक्रम के तहत कॉलेज व स्कूलों में संविधान पर विशेष कार्यक्रम किया जाएगा। संविधान के बारे में कई प्रादेशिक भाषाओं में भी कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। मौजूदा समय में आजादी के 75वें साल के मौके पर देश भक्ति से जुड़े 1500 से ज्यादा कार्यक्रम लोक कलाओं के माध्यम से आयोजित किए जा चुके हैं।