फुल वॉल्यूम 360° देश

CHUNAUTI 2.O : आपके Startup को सरकार दे रही है 25 लाख रुपये

CHUNAUTI-2.0
Spread It

भारत जिस तेज गति से आगे बढ़ रहा है उसका मुख्य कारण यहां की युवाओं की सक्रियता है। भारत युवाओं का देश है और किसी भी देश के विकास में युवा का योगदान सबसे अहम होता है। भारत के विकास का भी एक बड़ा कारण यहां के युवा ही हैं। देश में Startup को बढ़ावा देने के लिए तरह-तरह की प्रतियोगिताएं होते रहती है। हाल ही में देश के प्रधानमंत्री ने युवाओं के लिए सौ लाख करोड़ की गति शक्ति योजना का ऐलान किया था। अब एक ऐसे ही स्टार्टअप प्रोग्राम को आईटी मंत्रालय लेकर आई है। दरअसल, देश में स्टार्टअप्स को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार ने ‘चुनौती 2.0’ (CHUNAUTI 2.O) नाम से नया स्टार्टअप चैलेंज शुरू किया है, जिसके तहत 25 लाख रुपये तक की शुरुआती फंडिंग दी जाएगी।

CHUNAUTI यानी की Challenge Hunt Under NGIS for Advanced Uninhibited Technology Intervention एक ऑनलाइन चैलेंज की एक सीरीज है। इसका मकसद देश के टायर-2 शहरों पर स्पेशल फोकस करते हुए स्टार्टअप और सॉफ्टवेयर उत्पादों को बढ़ावा देना है। इसका मुख्य उद्देश्य चिन्हित क्षेत्रों में काम कर रहे स्टार्टअप की पहचान करना है। इसके साथ ही इनोवेटिव आइडियाज, नए सोलूशन्स, मजबूत टीम और मजबूत बिज़नेस प्रपोजल के आधार पर चुने गए प्रत्येक लाभार्थी या सपोर्टेड स्टार्ट-अप को फाइनेंसियल इंस्टीटूशन के माध्यम से 25 लाख रुपये तक की शुरुआती फंडिंग और अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी।

इस पहल का उद्देश्य उन क्षेत्रों और डोमेन के लिए सोलूशन्स को आइडेंटफाई करना और उनका सपोर्ट करना है जो महामारी के बाद की दुनिया में प्राथमिकता के रूप में उभरे हैं। इस योजना में भारत को एक सॉफ्टवेयर प्रोडक्ट नेशन के रूप में उभारने का विजन है ताकि भारत को विकास, उत्पादन में एक ग्लोबल प्लेयर बनाया जा सके।

इस स्टार्ट अप में महिलाओं को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। CHUNAUTI 2.0 फोकस सेक्टर्स में इनोवेटिव टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट्स पर काम कर रहे महिलाओं के नेतृत्व वाले स्टार्ट-अप पर विशेष ध्यान देने के साथ होनहार स्टार्टअप की पहचान और समर्थन करना चाहता है। इसके साथ ही उन्हें नेटवर्क, कनेक्ट, सीखने और संसाधनों तक पहुंच प्रदान करता है जो ग्लोबल बिज़नेस बनाने के लिए ज़रूरी है।

इस चैलेंज के तहत देश के छोटे शहरों से आने वाले स्टार्टअप्स को प्राथमिकता दी जाएगी। अब आइये चलते हैं और जानते हैं की इसकी एलिजिब्लिटी क्राइटेरिया क्या है।

यह चैलेंज उन भारतीय स्टार्ट-अप से एप्लीकेशन इन्वाइट करती है, जो सॉफ्टवेयर प्रोडक्ट डेवलपमेंट से संबंधित डोमेन में काम कर रहे हैं। इसके साथ ही स्टार्ट-अप इंडिया कार्यक्रम के तहत DPIIT के साथ रजिस्टर्ड स्टार्ट-अप को इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। एक बात का खास ध्यान रखना है की women-led start-up के रूप में क्वालीफाई करने के लिए, स्टार्ट-अप का नेतृत्व या तो एक महिला उद्यमी द्वारा किया जाना चाहिए या उसके पास फाउंडर या को- फाउंडर के रूप में एक महिला होनी चाहिए।

इस स्टार्ट- अप कम्पटीशन की आखिरी तारीख 31st अगस्त 2021 है। तो जल्दी कीजिये और अपने स्टार्ट- अप आईडिया को शेयर कीजिये। इस प्रोग्राम में और अधिक जानकारी के लिए आप mygov india के वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं।