फुल वॉल्यूम 360° खेल

BCCI करेगा पूर्व क्रिकेटर्स की मदद, 25 से कम फर्स्ट क्लास मैच खेलने वालों को भी मिलेगा फायदा

bcci
Spread It

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) की एपेक्स काउंसिल (Apex Counsil) में भारतीय क्रिकेटर संघ (Indian Cricketers Association) का प्रतिनिधित्व करने वाले पूर्व ओपनर अंशुमन गायकवाड़ (Anshuman Gaekwad) ने 24 सितंबर को पीटीआई-भाषा से कहा कि बोर्ड पूर्व खिलाड़ियों के लिए पेंशन प्रस्ताव लाने को तैयार है। लंबे समय से आईसीए (ICA) की चली आ रही मांगों में 25 से कम फर्स्ट क्लास मैच खेलने वाले पूर्व खिलाड़ियों के लिए पेंशन के अलावा पूर्व क्रिकेटरों की विधवाओं और महिला क्रिकेटरों के लिए पेंशन शामिल है।

पूर्व खिलाड़ियों के लिए पेंशन में संशोधन के बारे में पूछे जाने पर गायकवाड़ ने कहा कि पिछली बैठक में इस पर चर्चा हुई थी। सौरव (BCCI अध्यक्ष गांगुली) ने आश्वासन दिया है कि वह अगली बैठक में इसके लिए एक प्रस्ताव लेकर आएंगे। उन्होंने कहा कि यह सिर्फ पेंशन में बढ़ोतरी के बारे में नहीं है। इसमें पूर्व खिलाड़ियों की विधवाओं के लिए भी पेंशन का जिक्र होगा। फिलहाल, प्रथम श्रेणी के 25 मैच खेलने वालों को पेंशन का लाभ मिलता है। लेकिन यह धीरे-धीरे घटकर 10 पर आ जाएगा।

बीसीसीआई (BCCI) ने एपेक्स काउंसिल की मीटिंग में लिए फैसले के बाद 20 सितंबर को घोषणा की कि कोविड-19 से प्रभावित 2020-21 सीजन के मुआवजे के रूप में खिलाड़ियों को 50 प्रतिशत अतिरिक्त मैच शुल्क का भुगतान किया जाएगा और आगामी सत्र के लिए उनकी मैच फीस में भी इजाफा किया जाएगा। भारत के पूर्व कोच रहे गायकवाड़ ने इस कदम की सराहना करते हुए कहा की यह एक सराहनीय कदम है। अंशुमन गायकवाड़ यह भारत के पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी पर आधारित किताब ‘सरदार ऑफ स्पिन’ के लॉन्च के मौके पर बोल रहे थे।

उन्होंने बीसीसीआई के इस फैसले को स्वागत योग्य बताते हुए कहा की सभी अच्छे खिलाड़ी भारत के लिए नहीं खेल पाते हैं। ऐसे में सभी की कमाई बहुत अच्छी नहीं होती है। कम से कम अब उन्हें अपने आजीविका के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं होगी। उन्होंने आगे कहा कि घरेलू क्रिकेट के लिए पहले ही बहुत कुछ किया जा चुका है और यह राष्ट्रीय टीम में हमारी गहराई से साफ हो जाता है।

Add Comment

Click here to post a comment