फुल वॉल्यूम 360° खेल

WTC Final में हार के बाद, इन खिलाड़ियों पर लटकी टीम से बाहर होने की तलवार

india-vs-england
Spread It

भारतीय क्रिकेट टीम को हाल ही में हुए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के फाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा है। इस हार के बाद भारतीय टेस्ट टीम में अगले सिरीज़ से पहले बदलाव के कयास लगाए जा रहे हैं। टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने भी हार के बाद टीम में बदलाव करने के संकेत दिए हैं। रिपोर्ट्स की माने तो दो दिग्गज बल्लेबाजों चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) और अंजिक्य रहाणे (Ajinkya Rahane)पर टीम से बाहर होने के तलवार लटक रही है।

वीरेंद्र सहवाग, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण जैसे दिग्गज खिलाड़ियों के संन्यास लेने के बाद से ही पुजारा, कोहली और रहाणे ने टीम इंडिया के मिडिल ऑर्डर को संभाला है। लेकिन चेतेश्वर पुजारा ने खेले गये अपने पिछले 18 मैचों में एक भी शतकीय पारी नहीं खेली है। इसके अलावा पुजारा को स्लो स्ट्राइक रेट की वजह से भी आलोचना का शिकार होना पड़ता है। WTC फाइनल में भी पुजारा ने 35 गेंदें खेलने के बाद अपना खाता खोला था।

विराट कोहली ने WTC फाइनल में मिली हार के बाद कहा था कि हम पिछले कुछ सालों से दुनिया की सबसे अच्छी टीम बने हुए हैं। हम अपनी टीम को नीचे गिरते हुए नहीं देख सकते हैं हमें खेल के मुताबिक बदलाव करने की जरूरत है। हम जल्द ही बड़े फैसले लेंगे। कोहली ने यह भी कहा था कि हमारे पास इतना वक्त नहीं है कि बदलाव के लिए एक या दो साल इंतजार किया जाए।

केएल राहुल को मिल सकता है मौका

विराट कोहली के दिए बयान से साफ है कि पुजारा के साथ-साथ अंजिक्य रहाणे के टीम में होने पर भी सवालिया निशान खड़ा हो चुका है। मेलबर्न टेस्ट में शतक लगाने के अलावा रहाणे ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक टीम मैनेजमेंट अब युवा खिलाड़ियों को ज्यादा मौके देना चाहता है। इसके अलावा केएल राहुल (K L Rahul) के शानदार फॉर्म को देखते हुए अब टीम इंडिया उन्हें मिडिल ऑर्डर में मौका दे सकती है। इसके अलावा हनुमा विहारी ( Hanuma Vihari) को भी अब ज्यादा मौके दिए जा सकते हैं।