इवेंट

BRICS Summit में आतंकवाद और संसाधनों के साझा इस्तेमाल पर PM Modi ने दिया जोर

Modi brics
Spread It

आज 9 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने 13वें ब्रिक्स (BRICS) सम्मेलन को संबोधित किया। इसमें सभी BRICS देशों के राष्ट्राध्यक्ष वर्चुअली जुड़े। प्रधानमंत्री ने इसमें आतंकवाद के खिलाफ मिलकर लड़ने की बात कही और संसाधनों के साझा इस्तेमाल पर जोर दिया।

सम्मेलन में PM Modi ने कहा कि “भारत की अध्यक्षता के दौरान हमें सभी ब्रिक्स पार्टनर्स से भरपूर सहयोग मिला है। इसके लिए मैं आप सभी का आभारी हूं। डेढ़ दशक में ब्रिक्स ने कई उपलब्धियां हासिल की हैं। आज हम विश्व की प्रभावकारी आवाज हैं। विकासशील देशों की प्राथमिकताओं पर ध्यान देने के लिए ये मंच उपयोगी हो रहा है।”

मोदी ने कहा कि ब्रिक्स ने न्यू डेवलपमेंट बैंक, एनर्जी रिसर्च कॉर्पोरेशन (Energy Research Corporation) जैसे प्लेटफॉर्म शुरू किया है। प्रधानमंत्री मोदी दूसरी बार ब्रिक्स समिट (BRICS Summit) की अध्यक्षता कर रहे हैं। इससे पहले वह 2016 में गोवा (Goa) में हुई ब्रिक्स समिट की अध्यक्षता कर चुके हैं।

चीन के राष्ट्रपति शी-जिनपिंग (Xi Jinping ) ने कहा कि “यह ब्रिक्स की 15वीं Anniversary है। पिछले 15 साल में हमने राजनीतिक विश्वास बढ़ाया है और कूटनीतिक बातचीत को बढ़ावा दिया है। हम अपनी चुनौतियों से निपटने के लिए साझा संसाधनों के आधार पर रणनीति बनाएंगे। ब्रिक्स के भविष्य को मजबूत करेंगे।”

ब्रिक्स पांच देशों ब्राजील (Brazil), रूस (Russia), इंडिया (India), चाइना (China), साउथ अफ्रीका (South Affrica) का एक ग्रुप है। यह ग्रुप 2011 में बनाया गया था। इस ग्रुप को बनाने का मकसद वेस्टर्न कंट्रीज (Western Countries) के इकोनॉमिक (Economic) और पॉलिटिकल (Political) दबदबे का मुकाबला करना है। ब्रिक्स ने वॉशिंगटन में मौजूद इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड और वर्ल्ड बैंक (International Monetary Fund and World Bank) के मुकाबले अपना खुद का बैंक बनाया है।

समिट में ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सेनारो (Jair Bolsonaro), रूस के राष्ट्रपति (Vladimir Putin), चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति रामाफोसा (Cyril Ramaphosa) शामिल हुए। इस बार समिट की थीम ‘ब्रिक्स@15: इंट्रा-ब्रिक्स कोऑपरेशन फॉर कंटीन्यूटी, कॉन्सोलिडेशन एंड कॉन्सेंसस’ (‘BRICS@15: Intra-BRICS Cooperation for Continuity, Consolidation and Consensus’) रखी गई है।