इवेंट

अब कॉमिक्स के जरिये होगी बच्चों की पढाई

ramesh-pokhriyal
Spread It

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने NCERT द्वारा CBSE स्कूलों के शिक्षकों तथा छात्रों द्वारा बनाई गई 100 से ज्यादा कॉमिक बुक (Comic Books) लॉन्च कीं।

इन कॉमिक्स बुक को DIKSHA वेब पोर्टल के ऑफिसियल वेबसाइट diksha.gov.in पर ऑनलाइन एक्सेस किया जा सकता हैं। आप अपने Smartphone पर DIKSHA का ऐप डाउनलोड कर के भी इन कॉमिक बुक्स को एक्सेस कर सकते हैं।

कॉमिक्स CBSE से संबद्ध स्कूलों के शिक्षकों द्वारा बनाई गई हैं और NCERT द्वारा इसके पाठ्यक्रम के आधार पर डिजाइन की गई हैं। इस पहल का उद्देश्य शिक्षण के माध्यम से बच्चों में सामाजिक और सांस्कृतिक संवेदनशीलता को बढ़ाना है।

आपको बता दें आप इन कॉमिक्स को एक नए व्हाट्सएप (WhatsApp ) संचालित चैटबॉट (Chatbot) के माध्यम से भी एक्सेस कर पायेंगे। ये चैटबॉट (Chatbot) डिजिटल सीखने के दायरे को बढ़ने के लिए एक अनूठा अवसर प्रस्तुत करता है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने CBSE योग्यता आधारित शिक्षा परियोजना के भाग के रूप में विज्ञान, गणित और अंग्रेजी कक्षाओं के लिए CBSE मूल्यांकन फ्रेमवर्क (Assessment Framework) भी लॉन्च किया। CBSE से मान्यता प्राप्त स्कूलों के 1000 से अधिक शिक्षकों ने इन कॉमिक बुक्स बनाने में मदद की है।

CBSE के अनुसार, यह कदम राष्ट्रीय शिक्षा नीति- एनईपी 2020 (National Education Policy-2020) के अनुसार उठाया गया है, ताकि छात्रों में वैचारिक स्पष्टता सुनिश्चित करने के लिए पाठ्यपुस्तक सीखने से एक बदलाव लाया जा सके।

कॉमिक्स को NCERT की पाठ्यपुस्तकों के विषयों के साथ जोड़ा गया है और इसमें विशिष्ट कहानी लाइन और चरित्र होते हैं ।

इन कॉमिक्स की कुछ प्रमुख विशेषताएं हैं :-

➣ प्रत्येक कॉमिक्स को छोटे छोटे भागों में बांटा गया है जो वर्कशीट द्वारा समर्थित होगा। ये बच्चों के सीखने के उद्देश्यों और परिणाम से जुड़ा है।

➣ ये कॉमिक्स इस तरह बनाया गया है जो बच्चों के बुनियादी अवधारणाओं को समझने और सीखने के अंतराल को कम करने में मदद करेगा।

➣ ऐकडेमिक कंटेंट को डिकंस्ट्रक्ट (Deconstructing) करते वक़्त जेंडर संवेदनशीलता, महिला सशक्तीकरण, एवं अन्य स्किल्स के बीच मूल्य शिक्षा के मुद्दों पर ध्यान दिया गया है।

Add Comment

Click here to post a comment