इवेंट

श्रेयसी का सटीक निशाना, Bihar की इस ‘गोल्डन’ विधायक ने जीता स्वर्ण

Shreyasi-Singh-1
Share Post

PATNA : बिहार (Bihar) के जमुई सीट से बीजेपी विधायक श्रेयसी सिंह (Shreyasi Singh) ने पंजाब के पटियाला में 64वीं नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में बिहार के लिए पहला स्वर्ण पदक जीता. उन्होंने बिहार के लिए स्वर्ण जीतकर ये साबित कर दिया है कि राजनीति में आने के बाद उनका निशाना चूका नहीं है. आज भी उनका निशाना बरकरार है. श्रेयसी की इस जीत पर बिहार के मुख्यमंत्री और बिहार राज्य राइफल संघ ने बधाई दी है.

जमुई के लोगों का कहना है कि उनकी स्थानीय विधायक ने जमुई के साथ साथ पूरे बिहार का नाम रौशन किया है. आपको बता दें कि आपको बता दें कि श्रेयसी को यह जीत महिलाओं के ट्रैप में हासिल हुई है. उनके जानने वाले लोगों का कहना है कि इस प्रतियोगिता की तैयारी में श्रेयसी जी जान से जुटी थीं और उनकी यह मेहनत रंग लायी. जिससे आज पूरे बिहार को उनपर गर्व है.

श्रेयसी सिंह की इस जीत पर बधाई देते हुए बिहार राज्य राइफल संघ के साचिव कुमार त्रिपुरी ने कहा कि उन्हें उनके ऊपर गर्व है. इधर श्रेयसी ने शुक्रवार को बिहार के सीएम नीतीश कुमार से बिहार विधान सभा स्थित कार्यालय में मुलाकात की. इस मुलाकात की तस्वीर को ट्विटर पर शेयर करते हुए श्रेयसी ने लिखा कि “64वीं नैशनल शूटिंग चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने पर बिहार विधान सभा स्थित अपने कार्यालय में माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने मेडल पहनाकर सम्मानित किया और अपना आशीर्वाद दिया.”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि “सहर्ष आप सभी को सूचित करना है कि 64वीं नैशनल शूटिंग चैंपियनशिप में मैंने बिहार का प्रतिनिधित्व करते हुए स्वर्ण पदक जीता है। साथ ही प्रगति दुबे जी और शगुन चौधरी को भी रजत और कांस्य पदक जीतने पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं. शूटिंग चैंपियनशिप में जीत के लिए मानव रचना शूटिंग अकादमी मानव रचना टीम के अनंत जी, हरेंद्र जी, नरेंद्र जी और कोच डेनियल डी स्पीनियो को उनके सहयोग एवं मार्गदर्शन हेतु उन्हें सहृदय धन्यवाद और आभार.”

कौन हैं श्रेयसी सिं
श्रेयसी सिंह बिहार के जमुई की रहने वाली हैं. उनका जन्म 29 अगस्त 1991 में हुआ था. उनकी माता का नाम पुतुल कुमारी है और पिता का नाम दिग्विजय सिंह हैं. ये एक राजनैतिक परिवार से ताल्लुक रखती हैं. इनके दादा और पिता दोनों ही जीवनकाल में नेशनल राइफल एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया के अध्यक्ष रह चुके हैं.

श्रेयसी एक कला की छात्रा थी. इन्होंने अपनी बैचलर्स की डिग्री हंसराज कॉलेज दिल्ली से प्राप्त की और मास्टर्स की डिग्री फरीदाबाद से की. फिर उन्होंने 30 साल की उम्र में राजनीति में कदम रखा और 2020 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गयीं. आपको बता दें कि उन्होंने जमुई विधान निर्वाचन क्षेत्र से 2020 में बिहार विधान सभा चुनाव सफलतापूर्वक लड़ा, जिसमे उन्होंने राजद के विजय प्रकाश को 41000 से अधिक मतों के अंतर से हराया.

अर्जुन अवार्ड से भी नवाज़ी जा चुकी हैं श्रेयसी
आपको बता दें कि श्रेयसी सिंह का खेल की दुनिया में बड़ा नाम है. ये एक अंतर्राष्ट्रीय शूटर हैं, और इन्हे अर्जुन अवार्ड से भी नवाज़ा गया है. इन्होंने 2018 के राष्ट्र्य मंडल में भी स्वर्ण जीता था. इससे पहले ग्लॉस्गो में हुए 2014 राष्ट्रमंडल खेलों में निशानेबाज़ी की डबल ट्रैप स्पर्धा में रजत पदक हासिल की थी. इन्हें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा 2018 में अर्जुन पुरुस्कार से नवाज़ा गया था.

Latest News

To Top