एजुकेशन

शिक्षकों की बहाली पर नहीं पड़ेगा Corona का असर, शिक्षा मंत्री बोले- समय पर मिलेगी नौकरी

Nitish-teacher
Share Post

PATNA : कोरोना (Corona) संक्रमण के तेज प्रसार के बावजूद सरकार ने पहले से तय शिड्यूल के तहत प्रारंभिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया जारी रखने का फैसला किया है. शिक्षा मंत्री ने कहा कि कोरोना की स्थिति अनियंत्रित और विस्फोटक नहीं हुई, तो शिक्षक अभ्यर्थियों की भी निर्धारित समय से ही काउंसिलिंग कर नियुक्ति पत्र दे दिया जाएगा. सरकार के फैसले के बाद राज्य के 1368 प्रारंभिक शिक्षक नियोजन इकाईयों के 12,495 पदों पर सफल अभ्यर्थियों की काउंसलिंग 17 से 28 जनवरी तक होगी.

शिक्षा मंत्री के मुताबिक काउंसलिंग के दौरान कोरोना प्रोटोकाल का सख्ती से पालन होगा. किसी तरह की अनियमितता की शिकायत मिलने पर काउंसलिंग रद कर दी जाएगी. सभी नियोजन इकाइयों को तय शिड्यूल से जनवरी में काउंसलिंग पूरी कराने का निर्देश दिया गया है. 25 फरवरी को सभी नवनियुक्त शिक्षकों को एकसाथ नियुक्ति पत्र दिए जाएंगे.

शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा है कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराते हुए निर्धारित शेड्यूल के साथ काउंसिलिंग होगी. सभी नियोजन इकाइयों को इस बारे में पहले ही निर्देश दिए जा चुके हैं.चाहे वह काउंसिलिंग हो या चयनित अभ्यर्थियों के बीच नियोजन पत्र बांटना हो, इस पर कोविड से जुड़े प्रतिबंधात्मक कदमों का असर नहीं होगा.

बता दें, लगभग 1100 नियोजन इकाइयों में काउंसिलिंग होनी है. छठे चरण में प्राथमिक शिक्षक नियोजन की काउंसिलिंग 17 जनवरी से 28 जनवरी तक निर्धारित है. जिन अभ्यर्थियों का चयन हो चुका है उनको नियोजन पत्र एक साथ कैंप लगा कर देने की तिथि 25 फरवरी पहले ही शिक्षा विभाग ने निर्धारित कर दी है.

माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों के लिए शिक्षकों के चयन की नियोजन प्रक्रिया 10 जनवरी से 18 फरवरी तक की जानी है.शिक्षक नियोजन के लिए नई नियोजन इकाइयों के गठन की प्रक्रिया जारी है.नए मुखिया, समितियों के सदस्यों और प्रमुखों को नियोजन का कार्य पूरा करना है. शिक्षा मंत्री ने कहा है कि अगर वर्तमान उपायों से कोविड पर नियंत्रण नहीं हुआ, तो समय आने पर जरूरी कदम उठाए जाएंगे यानी तिथि बढ़ सकती है, लेकिन फिलहाल नियोजन प्रक्रिया प्रतिबंधात्मक कदमों के कारण बाधित नहीं होगी.

Latest News

To Top