एजुकेशन

Teacher Recruitment: बिहार में महिलाओं को बड़ी संख्या में मिलेगी नौकरी, सातवें चरण में बहाल होंगे 50 हजार शिक्षक

Teachers-bahali-1
Share Post

PATNA : बिहार (Bihar) के प्राइमरी स्कूलों (primary schools) में छठे चरण की नियुक्ति प्रक्रिया (teacher recruitment 2022) अब समाप्त हो गई है. छठे चरण में आधे से अधिक पद खाली रह गए. अब सातवें चरण (7th phase) में खाली पड़े अधिसूचित पदों (teacher vacancy Bihar) को भरा जायेगा. इसमें बड़ी संख्या में महिलाओं को नौकरी (government jobs) दी जाएगी.

दरअसल छठे चरण की नियुक्ति के क्रम में बड़ी संख्या में नियोजन इकाइयों में एक बार भी काउंसिलिंग नहीं हुई. लिहाजा विभिन्न कारणों से योग्य अभ्यर्थियों को चयन का अवसर नहीं मिला पर इसके बावजूद शिक्षा विभाग ने लम्बे समय से चल रहे इस चरण को आगे नहीं बढ़ाने का फैसला किया है. शिक्षा विभाग ने छठवें चरण के प्रारंभिक नियोजन की समाप्ति का निर्णय लेते हुए इस चरण की बची और इस दौरान बनी नयी रिक्तियों के आधार पर सातवें चरण की बहाली की तैयारी भी आरंभ कर दी है.

आपको बता दें कि कि राज्य के करीब 72 हजार विद्यालयों में प्रारंभिक शिक्षक के 90 हजार 762 पदों पर नियोजन की प्रक्रिया 5 जुलाई 2019 को आरंभ हुई थी. यह 18 अप्रैल (विशेष चक्र) 2022 तक यानी कि लगभग 34 महीने चली. न्यायिक और तकनीकी अवरोधों से इस दौरान कई बार नियुक्ति पत्र वितरण की तिथि टली और आधा दर्जन से अधिक बार नियुक्ति का नया कार्यक्रम जारी हुआ.

रिपोर्ट के मुताबिक, चार काउंसिलिंग तिथि के बावजूद कुल अधिसूचित रिक्तियों में से करीब 51 हजार शिक्षकों के पद खाली रह गए हैं. इनमें बड़ी संख्या महिला और आरक्षित कोटि के पदों की है, जिनपर योग्य उम्मीदवार नहीं मिले. यही कारण है कि शिक्षा विभाग ने अगले चरण की नियुक्ति के आरंभ होने का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के हक में निर्णय लेते हुए सातवें चरण में सभी रिक्त रह गए पदों को जोड़ने का फैसला किया है.

बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि यह निर्णय आवश्यक था. छठा चरण काफी दिनों तक चला. कुछ नियोजन इकाइयों में चयन प्रक्रिया नहीं हो पायी. कुछ को लेकर सारी नियोजन इकाइयों की रिक्तियों को लंबित रखने से बेहतर है कि सातवें चरण की नयी प्रक्रिया आरंभ की जाये. इस निर्णय से एक तरफ जहां प्रतीक्षारत अभ्यर्थियों को खुशी होगी.

Latest News

To Top