एजुकेशन नोटिस बोर्ड

CBSE के रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों को इस महीने में मिलेगा वैकल्पिक परीक्षा देने का मौका

sTUDENTS 04
Spread It

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने CBSE बोर्ड के विद्यार्थियों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि किसी भी छात्र की योग्यता के साथ अन्याय नहीं होगा। केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने ट्विटर पर एक सेशन के दौरान कहा कि जिन छात्र-छात्राओं को लगता है कि, उनकी प्रतिभा के मुताबिक उनके अंक नहीं आए हैं तो उनके पास वैकल्पिक परीक्षा का अवसर है, इसलिए स्टूडेंट्स और उनके अभिभावक चिंता न करें। ऐसे में जो लोग लिखित परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं, उन्हें पहले ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा। इस संबंध में ज्यादा जानकारी सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in पर उपलब्ध कराई जाएगी।

रिजल्ट से असंतुष्ट छात्र-छात्राओं को वैकल्पिक परीक्षा देने का मौका दिया जाएगा। यह परीक्षा अगस्त में आयोजित की जाएगी। गौरतलब है कि सीबीएसई 12वीं रिजल्ट के फॉर्मूले से काफी छात्र और अभिभावक नाराज हैं। कुछ छात्रों का कहना है कि 10वीं कक्षा के अंकों को 12वीं का परिणाम का आधार नहीं बनाया जाना चाहिए। 10वीं के अंकों का असर 12वीं के प्रदर्शन पर नहीं पड़ता। कुछ छात्रों ने यह भी कहा है कि 11वीं में नए विषय होने के चलते उन्हें समझने में काफी समय लगा था। 11वीं में वह गंभीर नहीं थे। इसलिए 11वीं के मार्क्स 12वीं में जोड़ना गलत है।