एजुकेशन

Static GK 24th December 2021

Static-GK-24th-December-2021
Share Post

1.गौतमीपुत्र शातकर्णी, निम्नलिखित में से किस राजवंश का शासक था?
(A) पल्लव
(B) चालुक्य
(C) शक
(D) सातवाहन
उत्तर : (D) सातवाहन

गौतमी पुत्र श्री शातकर्णी सातवाहन वंश का सबसे महान शासक था राजा शालीवाहन। शालीवाहन ने ईश्वर की तपस्या के फलस्वरूप कई वरदान प्राप्त किए और वर्दिय(वरदान प्राप्त करने वाला)कहलाए और लगभग 25 वर्षों तक शासन करते हुए न केवल अपने साम्राज्य की खोई प्रतिष्ठा को पुर्नस्थापित किया अपितु एक विशाल साम्राज्य की भी स्थापना की। गौतमी पुत्र के समय तथा उसकी विजयों के बारें में हमें उसकी माता गौतमी बालश्री के नासिक शिलालेखों से सम्पूर्ण जानकारी मिलती है। कुछ विशेषज्ञों द्वारा गौतमिपुत्र सत्कर्णी को राजा शालीवाहन भी माना जाता है।

2.’अष्टांगिक मार्ग’ (आठ प्रकार के पथ) का तत्वज्ञान निम्नलिखित में से किसके द्वारा प्रतिपादित किया गया था?
(A) शंकराचार्य
(B) गौतम बुद्ध
(C) रामानुज
(D) महावीर स्वामी
उत्तर : (B) गौतम बुद्ध

अष्टांग मार्ग भगवान बुद्ध की प्रमुख शिक्षाओं में से एक है जो दुखों से मुक्ति पाने एवं तथ्य-ज्ञान के साधन के रूप में बताया गया है। अष्टांग मार्ग के सभी ‘मार्ग’ , ‘सम्यक’ शब्द से आरम्भ होते हैं (सम्यक = अच्छी या सही या सत्य)। बौद्ध प्रतीकों में प्रायः अष्टांग मार्गों को धर्मचक्र के आठ ताड़ियों (spokes) द्वारा निरूपित किया जाता है। 1.सम्यक दृष्टि 2.सम्यक संकल्प 3.सम्यक वचन 4.सम्यक कर्म 5.सम्यक जीविका 6.सम्यक प्रयास 7.सम्यक स्मृति 8.सम्यक समाधि।

3.निम्नलिखित में से किस राज्य की सीमा, पश्चिम बंगाल राज्य से नहीं लगती है?
(A) झारखंड
(B) मेघालय
(C) असम
(D) सिक्किम
उत्तर : (B) मेघालय

पश्चिम बंगाल भारत के पूर्वी भाग में स्थित एक राज्य है। इसके पड़ोस में नेपाल, सिक्किम, भूटान, असम, बांग्लादेश, ओडिशा, झारखण्ड और बिहार हैं। इसकी राजधानी कोलकाता है। इस राज्य में 23 जनपद है। यहाँ की मुख्य भाषा बांग्ला है। यह राज्य भारत के पूर्वी भाग में 88,853 वर्ग किमी के भूखण्ड पर फैला है। इसके उत्तर में सिक्किम, उत्तर-पूर्व में असम, पूर्व में बांग्लादेश, दक्षिण में बंगाल की खाड़ी तथा उड़ीसा तथा पश्चिम में बिहार तथा झारखण्ड है।

4.निम्नलिखित में से किस उद्योग को, भारत में आठ आधारभूत उद्योगों के सूचकांक की गणना के लिए उपयोग किया जाता है?
(A) तांबा
(B) वस्त्र
(C) एल्युमिनियम
(D) रिफाइनरी उत्पाद
उत्तर : (D) रिफाइनरी उत्पाद

देश की आठ आधारभूत इंडस्ट्री में कोयला, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, स्टील, सीमेंट, कच्चा तेल, उर्वरक और बिजली सेक्टर आते हैं। देश की इकोनॉमी को आगे बढ़ाने में इनकी अहम भूमिका होती है। वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक इनकी ग्रोथ तय करने वाला इंडेक्स अगस्त में बढ़कर 133.5 अंक रहा और उत्पादन में ग्रोथ 11.6% रही। जबकि पिछले साल अगस्त में ये 117.6 अंक था और तब ये ग्रोथ रेट 8.5% था। जबकि जुलाई 2021 में इनकी ग्रोथ रेट 9.4% थी।

5.’सिद्धान्त शिरोमणि’ नामक प्राचीन ग्रंथ निम्नलिखित में से किसने लिखा है?
(A) ब्रह्मगुप्त
(B) आर्यभट्ट
(C) भास्कराचार्य
(D) महावीराचार्य
उत्तर : (C) भास्कराचार्य

भास्कराचार्य या भास्कर द्वितीय प्राचीन भारत के एक प्रसिद्ध गणितज्ञ एवं ज्योतिषी थे। इनके द्वारा रचित मुख्य ग्रन्थ सिद्धान्त शिरोमणि है।उन्होंने यह वर्ष 1150 में लिखा था जब वह 36 वर्ष के थे। यह संस्कृत भाषा में लिखा गया है और इसमें 1450 छंद शामिल हैं। जिसमें लीलावती, बीजगणित, ग्रहगणित तथा गोलाध्याय नामक चार भाग हैं। ये चार भाग क्रमशः अंकगणित, बीजगणित, ग्रहों की गति से सम्बन्धित गणित तथा गोले से सम्बन्धित हैं। लीलावती में 13 अध्याय और 278 छंद हैं यह अंकगणित और मापन की व्याख्या करता है। बीजगणित के छह भाग हैं जिनमें 213 छंद हैं और बीजगणित की व्याख्या करते हैं। गणिताध्याय और गोलाध्याय में 900 छंद हैं और खगोल विज्ञान की व्याख्या करते हैं।

6.सवाई जय सिंह के सरपरस्ती में निम्नलिखित में से किस शहर में खगोलीय वेधशाला का निर्माण कराया गया था?
(A) भरतपुर
(B) आगरा
(C) प्रयागराज
(D) वाराणसी
उत्तर : (D) वाराणसी

जंतर मंतर, “यंत्र मंत्र” का अपभ्रंश रूप है। सवाई जयसिंह ने ऐसी वेधशालाओं का निर्माण जयपुर, उज्जैन, मथुरा, दिल्ली और वाराणसी में भी किया था। पहली वेधशाला 1725 में दिल्ली में बनी। इसके 10 वर्ष बाद1734 में जयपुर में जंतर मंतर का निर्माण हुआ। इसके 15 वर्ष बाद 1748 में मथुरा, उज्जैन और बनारस में भी ऐसी ही वेधशालाएं खड़ी की गईं। सवाई जयसिंह या जयसिंह (द्वितीय) (03 नवम्बर 1688 – 21 सितम्बर 1743) अठारहवीं सदी में भारत में राजस्थान प्रान्त के नगर/राज्य आमेर के कछवाहा वंश के सर्वाधिक प्रतापी शासक थे।

7.भारत में, देश की विदेशी मुद्रा के भंडार का संरक्षक निम्नलिखित में से कौन होता है?
(A) भारतीय रिजर्व बैंक
(B) भारतीय स्टेट बैंक
(C) केंद्रीय वित्त मंत्रालय
(D) केंद्रीय मंत्रिमंडल
उत्तर : (A) भारतीय रिजर्व बैंक

भारत में, भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम 1934 में रिजर्व बैंक के लिए विदेशी भंडार के संरक्षक के रूप में कार्य करने और परिभाषित उद्देश्यों के साथ भंडार का प्रबंधन करने के लिए सक्षम प्रावधान शामिल हैं। विदेशी मुद्रा भंडार के संरक्षक होने की शक्तियाँ, प्रथम दृष्टया, अधिनियम की प्रस्तावना में निहित हैं। 1946 में, भारत अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) का सदस्य बन गया और उस समय से RBI के पास IMF के अन्य सभी सदस्य देशों के साथ निश्चित विनिमय दरों को बनाए रखने की जिम्मेदारी है। विदेशी मुद्रा भंडार विदेशी मुद्राएं, स्वर्ण भंडार, एसडीआर, और आईएमएफ के पास जमा, ट्रेजरी बिल, बांड और अन्य सरकारी प्रतिभूतियों जैसी संपत्तियां हैं।

8.धम्मचक्कपवत्तन’ (धर्मचक्र प्रवर्तन) नामक बौद्ध आयोजन निम्नलिखित में से किस स्थान पर किया गया था?
(A) बोध गया
(B) लुम्बिनी
(C) सारनाथ
(D) कुशीनगर
उत्तर : (C) सारनाथ

धम्मचक्कप्पवत्तनसुत्त (पालि में) या धर्मचक्रप्रवर्तनसूत्र (संस्कृत में) बौद्ध ग्रन्थ है जिसमें गौतम बुद्ध द्वारा ज्ञानप्राप्ति के बाद दिया गया प्रथम उपदेश संगृहित है। बुद्ध ने यह उपदेश ज्ञान प्राप्ति के सात सप्ताह के बाद आषाढ़ माह की पूर्णिमा के दिन ऋषिपत्तन (वर्तमान सारनाथ) में अपने पाँच पूर्व साथियों (कौण्डिन्य, अस्सजि, वप्प, महानाम, भद्दिय) को दिया था। इन पाँच भिक्षुओं को ‘पञ्चवर्गिक’ कहते हैं। इस सुत्त में चार आर्य सत्यों का प्रमुखता से वर्णन है। इसमें ‘मध्यमार्ग’ के दर्शन का भी वर्णन है।

9.सुल्तानगंज (बिहार में भागलपुर के निकट) में खोजी गई गौतम बुद्ध की प्रतिमा को ………… काल की प्रतिमा मानी गई है।
(A) शुंग
(B) मौर्य
(C) नंद
(D) गुप्त
उत्तर : (D) गुप्त

सुल्तानगंज बुद्ध एक तांबे की बुद्ध की मूर्ति है जो 500 और 700 ईस्वी के बीच की है। मूर्ति की ऊंचाई 2.3 मीटर है और इसका वजन लगभग 500 किलोग्राम है। यह बिहार के भागलपुर जिले के उत्तर भारतीय शहर सुल्तानगंज में पाया गया था। यह 1861 में ईस्ट इंडियन रेलवे के निर्माण के दौरान पाया गया था। वर्तमान में, यह बर्मिंघम आर्ट गैलरी में इंग्लैंड के बर्मिंघम में रखा गया है। यह गुप्त साम्राज्य के काल का है। गुप्त साम्राज्य एक प्राचीन भारतीय साम्राज्य था, जो तीसरी शताब्दी के उत्तरार्ध से 543 ईस्वी के मध्य तक मौजूद था।

10.अबुल फजल द्वारा लिखा गया ‘अकबरनामा’ कितनी पुस्तकों में विभाजित है?
(A) दो
(B) तीन
(C) पाँच
(D) चार
उत्तर : (B) तीन

अकबरनामा का अर्थ है, अकबर की किताब। इसमें तीसरे मुगल सम्राट अकबर के जीवन की घटनाओं और उसके शासनकाल का ज़िक्र है। यह उनके दरबारी इतिहासकार और जीवनी लेखक, अबुल-फ़ज़ल द्वारा लिखा गया है, जो “अकबर के दरबार के नवरत्नों” में से एक थे। यह किताब फारसी में लिखी गई है, जो मुगलों की मातृभाषा थी। इसे तीन किताबों में विभाजित किया गया है: पहला अकबर के पूर्वजों के बारे में है, दूसरा अकबर के शासनकाल के बारे में है और तीसरा आईना-ए-अकबरी के बारे में है। वर्तमान में, अकबरनामा लंदन के एक संग्रहालय में संरक्षित है।

Latest News

To Top