नोटिस बोर्ड

BIHAR : हाईकोर्ट ने लगाई दारोगा के लिए चयनित 2446 कैंडिडेट के ज्वाइनिंग पर रोक

daroga
Share Post

PATNA : बिहार (Bihar) पुलिस में दारोगा के पद के लिए चयनित 2 हजार 446 अभ्यर्थियों को झटका लगा है. पटना हाईकोर्ट ने इनकी ज्वाइनिंग पर रोक लगा दी है. पटना उच्च न्यायालय ने बुधवार को दारोगा की बहाली मामले पर सुनवाई की और दोनों पक्षों की दलीलों को सुना. सुनवाई के दौरान अदालत ने इस पूरे मामले की गंभीरता को देखते हुए स्टे लगा दिया है. उन्होंने बताया कि अब अभी किसी भी अभ्यर्थी को ज्वाइनिंग लेटर नहीं दिया जाएगा.

बुधवार को पटना उच्च न्यायालय में आवेदकों की ओर से अधिवक्ता रीतिका रानी ने कोर्ट को बताया कि 2446 दारोगा बहाली के लिए 1 अगस्त 2021 को मेरिट लिस्ट आई थी, इसमें 268 आवेदकों के नाम थे. उस समय कट ऑफ मार्क्स 75.8 था। उसके बाद एक सूची जारी की गई. उसमें कट ऑफ 75 रखा गया, लेकिन इस लिस्ट में 268 आवेदकों का नाम सफल की सूची में नहीं था. इन उम्मीदवारों को 75.8 के कटऑफ पर सफल की सूची में शामिल किया गया था, लेकिन जब कट ऑफ 75 हो गया, तो इन्हें सफल वाले में शामिल नहीं किया गया.

इधर सुधीर कुमार गुप्ता एवं अन्य की ओर से दायर रिट पर न्यायमूर्ति पीबी बैजंथ्री की एकलपीठ ने सुनवाई की. आवेदक के वकील का कहना था कि अभी दारोगा की बहाली नहीं की गई है. आयोग के वकील का कहना था कि आयोग ने दारोगा की बहाली कर दी है. कोर्ट ने दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद कहा यदि बहाली नहीं हुई है तो इस पद पर बहाली नहीं होगी. कोर्ट ने सरकार व आयोग को जवाबी हलफनामा दायर करने का आदेश दिया.

सुधीर कुमार गुप्ता समेत 268 अभ्यर्थियों ने यह शिकायत की है कि उन्होंने एग्जाम में कट ऑफ स्कोर से अधिक नंबर के प्रश्न सही हल किये हैं. वहीं आयोग ने जब 1 अगस्त 2021 को अपने वेबसाइट पर स्कोरकार्ड अपलोड किया तो पाया गया कि करीब 236 कंडिडेट के नंबर कट ऑफ से अधिक हैं लेकिन उनका चयन नहीं हुआ. कोर्ट ने इस पूरे मामले की गंभीरता को देखते हुए स्टे लगा दिया है. उन्होंने कहा है कि बहाली की प्रक्रिया रोक दी जाएगी. अब आयोग को अदालत में कई अनसुलझे सवालों के जवाब देने होंगे.

Latest News

To Top