नोटिस बोर्ड

अगले महीने आएगा BPSC 66वीं का रिजल्ट, बिहार को मिलेंगे 860 नए अफसर

BPSC
Share Post

PATNA: 67 वीं बीपीएससी (BPSC) संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा अहले साल के शुरुआत में कराये जाने की संभावना है. रिपोर्ट्स के अनुसार ये परीक्षा मार्च के अंत या अप्रैल तक आयोजित होने की संभावना है. बता दें, 66 वीं बीपीएससी की तुलना में 67 वीं बीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा के लिए लगभग डेढ़ लाख अधिक आवेदन आयोग को प्राप्त हुए हैं.

67 वीं बीपीएससी संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा में 794 पदों के लिए 24 सितंबर तक 6 लाख 2 हजार अभ्यर्थियों के आवेदन आयोग को मिले हैं. यानी एक पद के लिए 758 उम्मीदवार. बीपीएससी ने प्रारंभिक परीक्षा के लिए 2022 में 23 जनवरी की तिथि निर्धारित की थी. बाद में यह तिथि परीक्षा केंद्र निर्धारण में परेशानी का हवाला दे कर स्थगित कर दी गई. कहा गया की परीक्षार्थियों की अधिक संख्या होने से परीक्षा केंद्र निर्धारण में परेशानी आ रही है. फरवरी में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षा है. इसलिए मार्च के पहले बीपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा आयोजित होने की संभावना नजर नहीं आ रही है. उल्लेखनीय है कि बीपीएससी 66वीं प्रतियोगिता परीक्षा के जरिए राज्य में 860 पदों को भरा जाना है. जिनमें डीएसपी 42 पद और ग्रामीण विकास अधिकारी के 127 पद हैं.

67 वीं बीपीएससी में ये पद –
बिहार प्रशासनिक सेवा 88 , डीएसपी 20, राजस्व पदाधिकारी 36, सहायक कर आयुक्त 21, सीडीपीओ 4, सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा 12, बिहार शिक्षा सेवा 12, योजना विभाग में सहायक निदेशक योजना 52, नियोजन पदाधिकारी 2, ग्रामीण विकास पदाधिकारी 133, नगर कार्यपालक पदाधिकारी 110, जिला अंकेक्षण पदाधिकारी 5, निर्वाचन पदाधिकारी 4, प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी 18, श्रम अधीक्षक 2, आपूर्ति निरीक्षक 4, अति पिछड़ा वर्ग कल्याण पदाधिकारी 139 , सहायक निबंधक सहयोग समितियां के 9 , मद्य निषेध, उत्पाद व निबंधन विभाग में अवर निबंधक के 3, काराधीक्षक 3, श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी 65

66वीं बीपीएससी मेन्स का रिजल्ट जनवरी के अंत तक
वहीं 66 वीं बीपीएससी मुख्य परीक्षा परीक्षा का रिजल्ट जनवरी 2022 के अंत तक जारी होने की संभावना जताई जा रही है. इसके बाद अंतिम परीक्षाफल मार्च 2022 तक प्रकाशित की जाएगी. विभिन्न विभागों के 691 पदों के लिए मुख्य परीक्षा के लिए 8997 अभ्यर्थी सफल हुए थे. 29 से 31 जुलाई तक पटना के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर मुख्य परीक्षा हुई थी. निर्धारित सीटों से लगभग 2.5 गुना अधिक अभ्यर्थी यानी लगभग 1800 अभ्यर्थी इंटरव्यू के लिए चयनित होंगे.

Latest News

To Top