एजुकेशन

ग्रुप D और NTPC परीक्षा का नया शेड्यूल जारी, अप्रैल और जुलाई में होगा एग्जाम, देखिये डिटेल

NTPC-Group-D
Share Post

DESK : इस वक्त रेलवे भर्ती बोर्ड की ओर से एक बड़ी खबर सामने आ रही है. रेलवे ने अभ्यर्थियों की बात मान ली है. रेलवे भर्ती बोर्ड की नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी (NTPC) परीक्षा में 20 गुना अभ्यर्थियों को शामिल करने का एलान किया है. रेलवे की हाई पावर कमिटी की अनुशंसा के बाद रिजल्ट की तारीखों का एलान किया गया है. रेलवे की ओर से जारी ताजा नोटिस के मुताबिक अप्रैल के पहले सप्ताह में 20 गुना संसोधित रिजल्ट जारी किया जायेगा.

रेल मंत्रालय के फैसले के बाद एनटीपीसी भर्ती परीक्षा के लिए नया रिजल्ट जारी करने का आदेश दिया गया है. इसके अलावा रेलवे ने ग्रुप डी की भर्ती के मात्र एक एग्जाम लेने का फैसला किया गया है. रेलवे की ओर से ताजा नोटिस जारी कर इसकी जानकारी दी गई है.

Notice RRB

बता दें कि 15 जनवरी को रेलवे एनटीपीसी लेवल 1 के परीक्षा परिणाम के बाद बिहार, झारखंड, यूपी में अभ्यर्थियों ने आंदोलन किया था. उम्मीदवारों की प्रमुख मांग रही थी कि प्रथम श्रेणी में शामिल अभ्यर्थी कई पदों पर शामिल हुए. ऐसे में दूसरे चरण की परीक्षा में उनको भी मौका दिया जाए. रेलवे ने उम्मीदवार की अधिकांश मांगों पर सहमत जताई है और कहा है कि अप्रैल महीने के अगले सप्ताह में संसोधित रिजल्ट देने के बाद सीबीटी-2 के लेवल 6 का एग्जाम मई महीने में लिया जायेगा.

रेलवे के ताजा नोटिस के मुताबिक लेवल 6 के बाद लेवल 2, 3, 4 और 5 के लिए उचित समय पर एग्जाम लिया जायेगा. चूँकि एक ही अभ्यर्थी अलग-अलग लेवल में भी एग्जाम देंगे. इसलिए परीक्षाओं के बीच में गैप रखा जायेगा. एक परीक्षा होने के बाद दूसरे एग्जाम के लिए अभ्यर्थियों को समय दिया जायेगा. रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि रेलवे कुल रिक्तियों के 20 गुना के आधार पर परीक्षा परिणाम घोषित करने के लिए सहमत हो गया है. अगले महीने परिणाम जारी कर दिया जाएगा.

जानकारी के लिए बता दें, भारतीय रेलवे में ग्रुप D के 1.03 लाख पदों पर बहाली हो रही है. इस भर्ती को लेकर रेलवे की ओर से यह जानकारी दी गई थी कि ग्रुप डी की बहाली में एक नहीं बल्कि दो-दो एग्जाम लिए जायेंगे. जिसके बाद कैंडिडेट ने काफी हंगामा किया था. हंगामे के बाद रेलवे ने यह फैसला लिया था कि स्टूडेंट की समस्या के समाधान के लिए हाई पावर कमिटी का गठन किया जायेगा. इसी कमिटी की अनुशंसा के बाद रेलवे इस नतीजे पर पहुंची है कि अब दो कि जगह मात्र एक ही एग्जाम लिया जायेगा और इस परीक्षा का आयोजन जुलाई महीने में इसी साल किया जायेगा.

अभ्यर्थियों की समस्याओं के समाधान के लिए बनाई गई कमिटी ने रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है. इसी रिपोर्ट के आधार पर एनटीपीसी और ग्रुप डी परीक्षा के लिए नए नियम बनाये गए हैं. नई तारीखों के भी एलान किये गए हैं.

रेलवे के अधिकारियों के मुताबिक रेलवे द्वारा गठित हाई पावर कमिटी को करीब 295,000 सुझाव मिले थे. वेबसाइट के माध्यम से 2,18,000 सुझाव, ईमेल के माध्यम से 64,000 और रेलवे भर्ती बोर्ड से 13,800 सुझाव मिले थे. रेलवे बोर्ड की ओर से 35,000 एनटीपीसी पदों पर भर्ती निकाली गई है. कंप्यूटर आधारित परीक्षा (सीबीटी) लेवल-1 की परीक्षा में पास होने वाले अभ्यर्थियों की संख्या साढ़े चार लाख के आसपास रही है, जो अब बढ़ जाएगी. हालांकि अब यूनिक रिजल्ट दिया जायेगा या नहीं, रेलवे की ओर से इसका एलान नहीं किया गया है.

आपको बता दें कि 1.03 लाख पदों के लिए आयोजित की जा रही इस भर्ती में शामिल होने के लिए तकरीबन 1.15 करोड़ अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है. रेलवे ने इस भर्ती के लिए मार्च 2019 में ही अभ्यर्थियों से आवेदन मांगे थे लेकिन परीक्षा एजेंसी के चयन में देरी औरकोरोना महामारी की वजह से इसके लिए अभी तक परीक्षा आयोजित नहीं हो सकी है. अब यह परीक्षा जुलाई महीने में आयोजित होगी.

Latest News

To Top