कॉलेज

कोरोना ने रोकी Bihar की रफ्तार, 21 जनवरी तक बंद हुए स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान

Night-Curfew
Share Post

PATNA : बिहार (Bihar) में कोरोना महामारी को देखते हुए नीतीश सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए सूबे के सभी स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को अगले आदेश तक बंद रखने का आदेश जारी किया है।

गुरुवार की देर शाम बिहार के मुख्य सचिव आमिर सुबहानी की ओर से निर्गत आदेश के मुताबिक राज्य सरकार ने नई गाइडलाइंस में संशोधन किया है। सरकार ने निर्णय लिया है कि आठवीं कक्षा तक के बच्चों के जैसे ही इसके ऊपर क्लास के बच्चों के लिए भी स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। कोरोना की भयावह स्थिति को देखते हुए नीतीश सरकार ने यह बड़ा फैसला लिया है।

गृह विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि 4 जनवरी को जारी नई गाइडलाइंस में जो नियम बनाये गए थे, वे यथावत जारी रहेंगे। स्कूल, कॉलेज और कोचिंग को ही 21 जनवरी तक बंद किया गया है। लेकिन इस अवधि में कार्यालय खुले रहेंगे। स्कूल और कॉलेजों में 50% उपस्थिति के साथ कार्यालय का काम किया जाएगा।

आपको बता दें कि बिहार में पिछले 24 घंटे में एक बार फिर 2379 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है. सबसे खराब स्थिति पटना जिले की है, जहां 2 दर्जन से ज्यादा इलाकों में संक्रमण फैल चुका है और फिर से पटना में 1407 संक्रमित मरीज मिले हैं।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से गुरुवार को जारी आंकड़ों के अनुसार गया और मुजफ्फरपुर में भी मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। गया में 177 मरीज मिले हैं तो मुजफ्फरपुर में 137 मरीज मिले हैं।

वहीं सारण में 52, वैशाली में 35, बेगूसराय में 71, मधुबनी में 36, मुंगेर में 20, दरभंगा में 24, भागलपुर में 27, पश्चिमी चंपारण में 18, समस्तीपुर में 31, रोहतास में 15, सहरसा में भी 15 मरीज मिले हैं।

IMG 20220106 WA0005

Latest News

To Top