एजुकेशन

BSSC Recruitment 2022 : बिहार में सरकारी नौकरी का मौका, निकली बंपर वैकेंसी, देखें डिटेल्स

Job
Share Post

PATNA : बिहार (Bihar) के सरकारी अस्पतालों में मरीजों को टेस्ट कराने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। उनके रोगों की पहचान के लिए अस्पताल में ही लैब टेक्नीशियन (प्रयोगशाला तकनीशियन) करेंगे। बिहार के सरकारी अस्पतालों में जल्द ही करीब 1400 लैब टेक्नीशियन की स्थायी बहाली होने जा रही है।

बिहार स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि लैब टेक्नीशियन की कमी को पूरा करने और इनकी स्थायी नियुक्ति करने को लेकर नियुक्ति प्रक्रिया शुरू की गयी है। यह अंतिम चरण में है।

बिहार कर्मचारी चयन आयोग (BSSC) के माध्यम से लैब टेक्नीशियन के पदों के लिए साक्षात्कार की प्रक्रिया दो दिन पूर्व पूरी हो चुकी है। आयोग की अनुशंसा स्वास्थ्य विभाग को मिलते ही इनकी तैनाती अस्पतालों में की जाएगी। इससे प्रखंड स्तर से जिला स्तर तक के सरकारी अस्पतालों में रोगों की पहचान की सुविधा मजबूत होगी।

बताया जा रहा है कि कि राज्य में स्वास्थ्य विभाग के तहत करीब 2600 लैब टेक्नीशियन के स्थायी पद स्वीकृत हैं। इनमें 1772 पदों पर लैब टेक्नीशियन की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू की गयी है।

लैब टेक्नीशियन अस्पताल, पैथोलॉजी आदि में काम करते हैं। मेडिकल लैब टेक्नीशियन शरीर के आवश्यक पदार्थ जैसे फ्लूड, उत्तक (टिशु), ब्लड, स्किन वायरस, यूरीन इन्फेक्शन, बैक्टीरियल इन्फेक्शन आदि का विश्लेषण करते हैं।

अस्पतालों और प्रयोगशालाओं में जितनी अहम भूमिका एक डॉक्टर निभाते हैं, उसी तरह की भूमिका एक लैब टेक्नीशियन की भी होती है। वह डॉक्टरों के लिए एक सहायक की तरह कार्य करते हैं, जो किसी भी बीमारी की जांच के समय उनकी सहायता करते हैं।

Latest News

To Top