एजुकेशन

BPSC परीक्षा में धांधली का आरोप, नंबर बढ़ाने-घटाने की बात आई सामने, हाईकोर्ट में कॉपी पेश करने का आदेश

BPSC
Share Post

PATNA : बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) की 64वीं प्रतियोगी परीक्षा में धांधली का आरोप लगाया गया है। एक महिला अभ्यर्थी ने हाईकोर्ट में इसकी शिकायत की है। इस मामले में संज्ञान लेते हुए पटना हाईकोर्ट ने बीपीएससी को 64वीं संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा के एक हजार सफल और असफल छात्रों की उत्तरपुस्तिकाएं कोर्ट में पेश करने का आदेश आयोग को दिया है।

इस मामले में हाईकोर्ट ने कहा कि कई सफल अभ्यर्थियों के नंबर बढ़ाए गए हैं, जबकि कई असफल अभ्यर्थियों को दिये गए नंबर को काट कर कम कर दिया गया है। कोर्ट अब 22 मार्च को अगली सुनवाई करेगी।

हाईकोर्ट में आवेदन देने वाली अभ्यर्थी के वकील हर्ष सिंह ने कोर्ट को बताया कि आवेदिका को सूचना के अधिकार के तहत उपलब्ध करायी गयी उत्तरपुस्तिका में नंबर को काटकर कम कर दिया गया है, जबकि कई सफल अभ्यर्थियों का नंबर काटकर बढ़ा दिया गया है।

उन्होंने इसकी उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग कोर्ट से की।

वहीं गृह रक्षा वाहिनी बिहटा के लिए गूह रक्षकों के लिए चयन के लिए निर्गत चयन प्रक्रिया को अपरिहार्य कारणों से अगले आदेश तक स्थगित कर दिया गया है।

यह जानकारी समादेष्टा स्पेशल बटालियन बिहटा अनिरुद्ध प्रसाद ने दी है। इसके बारे में आगे अथ्यर्थियों के लिए जानकारी दी जाएगी।

Latest News

To Top