एजुकेशन

Bihar के 15 जिलों में येलो अलर्ट, सरकारी स्कूलों में छुट्टी का ऐलान, देखिए डिटेल

Students-Bihar
Share Post

PATNA : बिहार (Bihar) में भीषण गर्मी के कहर और लू के चलते सरकारी स्कूलों में गर्मी की छुट्टी (Schools Summer Vacation 2022) की घोषणा कर दी गई है. राज्य सरकार (Bihar Government) ने सूबे में जारी भीषण गर्मी और तापमान के बढ़ने के कारण इसी हफ्ते स्कूलों के संचालन के बाद 23 मई से विद्यालयों को बंद करने का एलान किया है. शिक्षा विभाग (Education Department) की ओर से इसकी जानकारी दी गई है.

शिक्षा विभाग की ओर से कहा गया है कि भीषण गर्मी को ध्यान में रखते हुए 23 मई से 14 जून तक कुल 23 दिनों का ग्रीष्मावकाश (23 day summer vacations) रहेगा. इस दौरान शिक्षकों और अन्य स्कूल स्टाफ को छुट्टी होगी कि नहीं, इसकी जानकारी फिलहाल स्पष्ट नहीं हो पाई है. आपको बता दें कि सरकार ने गर्मी को देखते हुए स्कूलों को मॉर्निंग में चलाने का आदेश दिया था लेकिन बढ़ती हुई गर्मी और ताप के कारण सरकारी विद्यालओं को बंद करने का एलान किया है.

Education department 2
Bihar Education Department

पटना जिले के सरकारी स्कूलों में गर्मी की छुट्टी 23 मई से शुरू होगी. 21 मई (शनिवार) तक क्लास चलेगी. 22 मई को रविवार की छुट्टी रहेगी. पटना के जिला शिक्षा पदाधिकारी अमित कुमार ने बताया कि गर्मी की छुट्टी 14 जून तक रहेगी. 15 जून से स्कूल फिर नियमित चलेंगे. डीईओ अमित कुमार द्वारा एक साथ प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक तक की गर्मी की छुट्टी का शेड्यूल जारी कर दिया गया है.

इधर, दूसरी ओर प्राइवेट संस्थानों इस फैसले का विरोध किया है. कोरोना काल (Covid-19) के दौरान स्कूलों में पठन-पाठन की व्यवस्था प्रभावित होने के कारण पाठ्यक्रम अधूरा रहने की बात कही जा रही है.

निजी विद्यालओं के प्रबंधन का तर्क है कि सिलेबस पूरा करने में अभी वक़्त लगेगा. गर्मी की छुट्‌टी को लेकर 23 मई की बाध्यता मेंप्राइवेट शिक्षण संस्थान नहीं हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, “प्राइवेट स्कूलों का कहना है कि कोरोना के चक्कर में कोर्स काफी पिछड़ा हुआ है। यह बच्चों के भविष्य का सवाल है। गर्मी से बचाव जरुरी है लेकिन बच्चों का कोर्स उससे भी जरुरी है। अगर कोर्स पूरा नहीं होगा तो समस्या होगी. पटना सहित राज्य के अन्य जिलों के स्कूल संचालकों का कहना है कि अलग अलग स्कूलों का अपना शेड्यूल है। इस शेड्यूल के हिसाब से गर्मी की छुट्‌टी की जाएगी.”

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से प्रदेश में गर्मी और लू का कहर जारी है. आसमान से आग के गोले बरस रहे हैं. बिहार में राजस्थान जैसी गर्मी गिर रही है. मौसम विभाग के मुताबिक आगे भी कुछ दिनों तक मौसम की यथास्थिति बने रहने की संभावना है. विशेषकर शाहाबाद, मगध, पटना और सारण प्रमंडल में गर्मी की मार अधिक झेलनी पड़ रही है.

बिहार में मौसम के दो रंग दिख रहे हैं. प्रदेश के दक्षिणी भाग में जहां जेठ तप रहा है और पछुआ की मजबूत स्थिति बनी है. वहीं उत्तरी बिहार में पुरवा के कारण मौसम सुहाना बना है. बुधवार को पटना समेत प्रदेश के गया, जमुई, बक्सर, औरंगाबाद, बांका, नवादा, हरनौत, डेहरी में अधिकतम तापमान 40 डिग्री के पार पहुंच गया. अभी कुछ दिनों तक पटनावासियों को गर्मी से राहत मिलने वाली नहीं है। पछुआ की मजबूत स्थिति बने होने के कारण गर्मी का सितम जारी रहेगा.

उधर दूसरी ओर, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, गोपालगंज, शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, समस्तीपुर, मधुबनी, सुपौल, अररिया, सहरसा, मधेपुरा, किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार, भागलपुर और बांका में 22 मई तक गरज-तड़क के साथ बारिश का अलर्ट है. इस दौरान गरज के साथ बिजली चमक सकती है। मौसम विज्ञान केंद्र पटना की ओर से उत्तर बिहार के 15 जिलों के लिये येलो-अलर्ट जारी किया गया है.

Latest News

To Top