एजुकेशन

Bihar Board के ये बच्चे नहीं दे पाएंगे मैट्रिक की परीक्षा, छोटी सी गलती बना वजह

bseb
Share Post

PATNA : बिहार बोर्ड (Bihar Board) की मैट्रिक में इस बार वैसे छात्र शामिल होंगे, जिनका सेंटअप का रिजल्ट बोर्ड के पास होगा. बोर्ड की मानें तो प्रदेश भर के ऐसे 25 स्कूल है, जिन्होंने सेंटअप परीक्षा का रिजल्ट जारी नहीं किया है. इसमें पटना के भी 8 स्कूल हैं. पटना जिले के अलावा नालंदा, भोजपुर, बक्सर और रोहतास के एक-एक स्कूल शमिल हैं और कैमूर के चार, औरंगाबाद के तीन और गया के छह स्कूल हैं.

इन सभी स्कूलों को बिहार बोर्ड ने 22 दिसंबर तक सेंटअप परीक्षा का रिजल्ट भेजने का निर्देश दिया है. अगर स्कूल के द्वारा 22 दिसंबर तक रिजल्ट नहीं भेजा जायेगा तो वैसे छात्रों का एडमिट कार्ड बोर्ड जारी नहीं करेगा. जिससे छात्र फाइनल परीक्षा में नहीं जा सकेंगे. ज्ञात हो कि BSEB मैट्रिक की परीक्षा 17 फरवरी से 24 फरवरी तक होगी. परीक्षा दो शिफ्टों में सम्पन्न होगी.

पहली शिफ्ट सुबह 9:30 बजे से दोपहर 12:45 बजे तक और दूसरी शिफ्ट दोपहर 1:45 से शाम 5 बजे तक होगी. परीक्षा तीन घंटे तक चलेगी. परीक्षा में परीक्षार्थियों को 15 मिनट का अतिरिक्त ऑफ टाइम दिया जायेगा. इस दौरान परीक्षार्थी उत्तर नहीं लिख सकते हैं और दसवीं के विषयों की प्रैक्टिकल परीक्षाएं 20 से 22 जनवरी के बीच ली जाएगी.

टाइम टेबल
17 फरवरी – गणित
18 फरवरी – विज्ञान
19 फरवरी – सामाजिक विज्ञान
21 फरवरी – अंग्रेजी
22 फरवरी – मातृभाषा (हिन्दी, बांग्ला, उर्दू, मैथिली)
23 फरवरी – द्वितीय भारतीय भाषा (हिन्दी भाषियों के लिए संस्कृत, अरबी, फारसी, भोजपुरी में से कोई एक भाषा तथा अहिन्दी भाषियों के लिए राष्ट्रभाषा हिन्दी)
24 फरवरी – ऐच्छिक विषय (उच्च गणित, वाणिज्य, अर्थशास्त्र, फारसी, संस्कृत, अरबी, मैथिली, ललित कला, गृह विज्ञान, नृत्य, संगीत)

Latest News

To Top