समसामयिकी संग्रह

IPL 2022 : ज्यादा खिलाड़ी हुए कोरोना संक्रमित, तो क्या रद्द होगाआईपीएल ? जानिए क्या है BCCI का प्लान

IPL-2022
Share Post

DESK : भारत में क्रिकेट का उत्सव यानी की आईपीएल कल से शुरू होने वाला है. कोरोना के बीच भारत में कराए जा रहे इंडियन प्रीमियर लीग 2022 (IPL 2022) सीजन थोड़ा अलग होने वाला है. BCCI ने कोरोना संक्रमण से निपटने और टूर्नामेंट को सफल बनाने के कई प्लान बना रखे हैं. सीजन का आगाज 26 मार्च यानी की कल से होना है और फाइनल 29 मई को खेला जाना है. जैसा की आप जानते हैं इस साल आईपीएल में 8 की जगह 10 टीमें हिस्सा ले रही हैं. मैच का आयोजन मजबूत बायो बब्बल में मुंबई और पुणे में होना है. पिछले साल कई खिलाड़ी और स्टाफ आईपीएल के दौरान संक्रमित हो गए थे और इस वजह से आईपीएल को बीच में रोकना पड़ा था. इस बार भी सबके मन में ये सवाल है की अगर इस बार ज्यादा खिलाड़ी कोरोना संक्रमित हुए, तो क्या आईपीएल रद्द होगा? तो आइये आपको बताते हैं इन सभी सवालों के जवाब…

क्या होगा यदि कोई खिलाडी या स्टाफ कोरोना की चपेट में आ गया तो..
आईपीएल सीजन 15 के दौरन यदि कोई एक खिलाड़ी या स्टाफ संक्रमित हुआ तब, उस स्थिति में उस पॉजिटिव व्यक्ति को 7 दिन के लिए आइसोलेशन में भेजा जाएगा. इसी दौरान छठे और 7वें दिन RT-PCR टेस्ट होगा. दोनों टेस्ट में निगेटिव आने पर ही उस खिलाड़ी या स्टाफ को टीम के साथ बायो-बबल में एंट्री दी जाएगी. एंट्री से पहले यह भी देखा जाएगा कि पिछले 24 घंटे में उसे कोई लक्षण तो नहीं हैं या उसने कोई मेडिसिन तो नहीं ली.

क्या होगा जब कोरोना संक्रमण के कई मामले सामने आते हैं तो…
आपको बता दें उसकी भी प्लानिंग इस बार BCCI ने कर रखी है. जैसा की हम जानते हैं, किसी एक मैच के लिए प्लेइंग इलेवन में कम से कम 7 भारतीय और ज्यादा से ज्यादा 4 विदेशी खिलाड़ी खिलाने होते हैं. एक सब्स्टीट्यूट भारतीय प्लेयर भी होता है. इस तरह 12 प्लेयर्स की टीम मैच के लिए तैयार करते हैं. यदि कोरोना संक्रमण के कारण किसी टीम का यह बैलेंस गड़बड़ाता है, तो उस स्थिति में मैच को रिशेड्यूल किया जाएगा. कोरोना संक्रमण को देखते हुए बीसीसीआई (BCCI) ने इस आईपीएल सीजन में अहम बदलाव किए हैं. नए नियमों के अनुसार कोविड-19 के चलते यदि कोई टीम प्लेइंग इलेवन उतारने में असमर्थ है तो BCCI उस मैच को दोबारा आयोजित करेगा.

यदि किसी कारण से यह संभव नहीं होता है, तो यह पूरा मामला आईपीएल की टेक्निकल कमेटी को भेजा जाएगा. मामला टेक्निकल कमेटी के पास जाने के बाद कमेटी का फैसला ही मान्य रहेगा. पहले ऐसा नहीं होता था. पहले यदि कोई टीम प्लेइंग-11 उतारने में सक्षम नहीं होती थी, तो पीछे रहने वाली टीम को हारा हुआ मानकर दूसरी टीम को दो पॉइंट्स दिए जाते थे. इस बार कोरोना संक्रमण को देखते हुए नए नियम लाए गए हैं.

इसके साथ ही इस बार बीसीसीआई (BCCI) ने आईपीएल के बायो-बबल (IPL Bio Bubble) में एक बड़ा बदलाव किया है. खिलाड़ियों को इस बार 3 दिन सख्त क्वारंटीन में रहना होगा. उन्हें होटल रूम से निकलने की अनुमति नहीं होगी. हर 24 घंटे में उनका टेस्ट भी किया जायेगा. पिछले सीजन तक खिलाड़ियों को 7 दिन क्वारंटीन में रहना पड़ता था. वही इस बार यदि कोई प्लेयर किसी सीरीज में खेलकर एक बायो-बबल से आईपीएल के बायो-बबल में आता है, तो उसे यह नियम फॉलो नहीं करना पड़ेगा.

इस के अलावा इस बार टूर्नामेंट में कुछ अहम बदलाव भी किये गए हैं. इस बार हर एक टीम को दोनों पारियों में 2-2 रिव्यू दिए जाएंगे, जो पहले एक-एक ही थे. वहीं, दूसरा बदलाव कैच आउट होने को लेकर हुआ है. इस बार लीग में ICC का नया नियम लागू किया जाएगा. वहीं फैंस के लिए भी खुशखबरी है. कोरोना के बीच महाराष्ट्र सरकार ने स्टेडियम में 25% फैन्स को एंट्री देने की मंजूरी दी है. हालांकि इसके लिए फैन्स को वैक्सीन के दोनों डोज लगे होने चाहिए. कोरोना के चलते भारत में हुए पिछले सीजन में फैंस को एंट्री नहीं मिली थी.

Latest News

To Top