समसामयिकी संग्रह

Ashwin का ऐतहासिक कारनामा, टेस्ट क्रिकेट में झटके 435 विकेट, तोड़ा कपिल देव का रिकॉर्ड

Ashwin
Share Post

DESK : भारत-श्रीलंका (Ind vs SL) के बीच पहला टेस्ट मोहाली में खेला जा रहा है. आज मुकाबले का तीसरा दिन है और भारतीय टीम शानदार खेल का प्रदर्शन कर रही है. इसी बीच भारतीय स्पिनर अश्विन (R. Ashwin) ने एक नया कीर्तिमान हासिल कर लिया है. रविचन्द्रन अश्विन ने भारत के लीजेंड 1983 विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. वह टेस्ट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारत के दूसरे गेंदबाज बन गए हैं. अश्विन के टेस्ट क्रिकेट में कुल 435 विकेट हो गए हैं. कपिल देव ने अपने टेस्ट क्रिकेट करियर में कुल 434 विकेट झटके थे. अश्विन ने 435 विकेट झटकते हुए कपिल देव का रिकॉर्ड तोड़ दिया है.

हालांकि अश्विन अभी भी भारत के पूर्व लेग स्पिनर अनिल कुंबले से पीछे हैं. अनिल कुंबले के नाम टेस्ट क्रिकेट में कुल 619 विकेट हैं. कुंबले टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में चौथे नंबर पर हैं.

अश्विन ने यह ऐतिहासिक उपलब्धि श्रीलंका के खिलाफ मोहाली टेस्ट में हासिल की है. दरअसल, भारतीय टीम इन दिनों अपने घर में श्रीलंका के खिलाफ दो टेस्ट की सीरीज का पहला मैच खेल रही है. इसकी पहली पारी में अश्विन ने 49 रन देकर 2 विकेट हासिल किए थे. इसके बाद दूसरी पारी में तीसरा विकेट लेते ही कपिल देव को पीछे छोड़ दिया है. अश्विन ने पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन टी ब्रेक के बाद चरित असलंका को कोहली के हाथों कैच आउट कराकर पवेलियन भेजा और इसके साथ हीं कपिल देव का रिकॉर्ड तोड़ दिया. इसी मैच में अश्विन ने न्यूजीलैंड रिचर्ड हेडली और श्रीलंका के रंगना हेराथ को भी पछाड़ा है.

आपको बता दें, टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड मुरली धरन के नाम हैं. मुरली ने 800 विकेट अपने नाम किए हैं. वहीं, शेन वार्न ने टेस्ट क्रिकेट में कुल 708 विकेट झटके थे. इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन के नाम जहां 640 टेस्ट विकेट दर्ज है, वहीं ऑस्ट्रेलिया के मैक्ग्रा ने टेस्ट क्रिकेट में 563 विकेट लिए थे.

अश्विन के सामने अब साउथ अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज डेल स्टेन को पीछे छोड़ने का टारगेट है. स्टेन ने अब तक 439 विकेट लिए हैं. अश्विन यदि स्टेन को पीछे छोड़ते हैं, तो वह 400 विकेट की लाइन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज होंगे. उनके ऊपर वेस्टइंडीज के कर्टनी वॉल्श का नाम ही होगा, जिन्होंने 519 विकेट लिए थे.

बता दें, महान कपिल देव ने 131 टेस्ट में 434 विकेट लिए थे. अपने करियर में कपिल देव ने 23 बार 5 और 2 बार 10 विकेट लेने का कारनामा किया है. वहीं, अश्विन ने कपिल देव के रिकॉर्ड को अपने 85 वें टेस्ट मैच में ही तोड़ दिया है. अश्विन ने 85 मैच की 160 पारियों में 435 विकेट लिए. इस दौरान उनका औसत 24.29 का रहा है.अश्विन ने अपने करियर में 30 बार पांच विकेट लिए, जबकि 7 बार मैच में दस विकेट झटके हैं. टेस्ट क्रिकेट में कपिल देव के रिकॉर्ड को पहले अनिल कुंबले ने और अब रविचंद्रन अश्विन ने तोड़ा है. हालाँकि आज भी भारत की ओर से सबसे अधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड कपिल देव के नाम है.

टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट: (Most Wickets in test cricket)

01.मुथैया मुरलीधरन800 विकेट
02.शेन वॉर्न708 विकेट
03.जेम्स एंडरसन640 विकेट
04.अनिल कुंबले619 विकेट
05.ग्लेन मैक्ग्राथ563 विकेट
06.स्टुअर्ट ब्रॉड537 विकेट
07.कर्टनी वॉल्श519 विकेट
08.डेल स्टेन439 विकेट
09.रविचंद्रन अश्विन435 विकेट
10.कपिल देव434 विकेट
11.रंगना हेराथ433 विकेट
12.रिचर्ड हेडली431 विकेट

Latest News

To Top