विज्ञान-अंतरिक्ष

इसरो ने भरी 2021 की पहली उड़ान

isro-pslv-c51-launch
Spread It

इसरो ने इस साल का अपना पहला मिशन लांच कर दिया है। इसरो ने PSLV-C51/Amazonia-1 मिशन को आंध्र प्रदेश में श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लांच किया। यह PSLV का 53वां मिशन है। इस रॉकेट के जरिए ब्राजील के Amazonia-1 सैटेलाइट के साथ 18 अन्य सैटेलाइट भी अंतरिक्ष में भेजे गए हैं। इस मिशन की खास बात यह थी कि उपग्रहों के साथ मोदी की तस्वीर भी अंतरिक्ष में गई है।

PSLV-C51 ने सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के प्रथम लॉन्च पैड से सुबह करीब 10 बजकर 24 मिनट पर उड़ान भरी। इन सैटेलाइट के जरिए अंतरिक्ष में स्पेस किड्ज़ इंडिया एसडी कार्ड में भगवद गीता भी भेजा गया है। Amazonia-1 सैटेलाइट अमेज़न क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी और ब्राजील के क्षेत्र में विविध कृषि के एनालिसिस के लिए यूजर्स को रिमोट सेंसिंग डाटा मुहैया कराएगा तथा मौजूदा ढांचे को और मजबूत बनाएगा।

लॉन्चिंग के सफल मिशन के बाद इसरो प्रमुख ‘के सिवन’ ने कहा, “मुझे यह घोषणा करते हुए बेहद खुशी हो रही है कि PSLV-C51 ने Amazonia-1 को आज अपनी सटीक कक्षा में सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया गया। इस मिशन में ब्राजील द्वारा डिजाइन और संचालित पहला सैटेलाइट लॉन्च करने पर भारत और इसरो को गर्व, सम्मानित और खुशी महसूस हो रही है। इस उपलब्धि के लिए मेरी हार्दिक बधाई।”

इन छोटे अन्य सैटेलाइट में चेन्नई स्थित स्पेस किड्ज इंडिया द्वारा निर्मित “सतीश धवन सैटेलाइट” (SDSAT), तीन सैटेलाइट “UNITYsat” और “SindhuNetra” का कॉम्बिनेशन शामिल है। इन तीन उपग्रहों (UNITYsat) को Jeppiaar Institute of Technology, Sriperumpudur (JITsat), GH Raisoni College of Engineering, Nagpur (GHRCEsat) और Sri Shakthi Institute of Engineering and Technology, Coimbatore (Sri Shakti Sat) द्वारा एक संयुक्त विकास के रूप में डिजाइन और निर्मित किया गया है।

Add Comment

Click here to post a comment