योजना-परियोजना

जनजातीय स्कूल होंगे डिजिटल, भारत-माइक्रोसॉफ्ट हुए एक

microsoft
Spread It

जनजातीय मामलों के मंत्रालय और माइक्रोसॉफ्ट ने जनजातीय स्कूलों के डिजिटल परिवर्तन के लिए संयुक्त पहल पर एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

इसमें आदिवासी क्षेत्रों में आश्रम स्कूल और एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय (EMRS) की शुरूआत शामिल है।

माइक्रोसॉफ्ट आदिवासी छात्रों के लिए हिंदी और अंग्रेजी में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पाठ्यक्रम उपलब्ध कराएगी।

कार्यक्रम के पहले चरण में 250 EMRS स्थापित किए जाने हैं. इन 250 स्कूलों में से 50 स्कूलों को गहन प्रशिक्षण दिया जाएगा, और पहले चरण में पांच सौ मास्टर ट्रेनर्स को ट्रेनिंग दी जाएगी।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एप्लिकेशन और ऑफिस 365 जैसी उत्पादन तकनीकों का उपयोग करने के लिए शिक्षकों को चरणबद्ध तरीके से प्रशिक्षित किया जाना है।

यह शिक्षकों को सहयोग की दुनिया से परिचित कराएगा और उन्हें यह समझने में मदद करेगा कि वर्चुअल फील्ड ट्रिप के साथ शिक्षण को कैसे बढ़ाया जाए।

कार्यक्रम के अंत में शिक्षकों को माइक्रोसॉफ्ट शिक्षा केंद्रों से ई-सर्टिफिकेट और ई-बैज भी प्रदान किए जाएंगे।

Black Fungus : कोरोना से भी बेरहम है ब्लैक फंगस, मिनटों में चली जाती है जान, ऐसे करें पहचान और बचाव