महत्वपूर्ण-दिवस-सप्ताह-वर्ष

World Tuberculosis Day: जानिए 24 मार्च को ही क्यों मनाया जाता है ‘विश्व क्षय रोग दिवस’

world-tuberculosis-day
Spread It

ट्यूबरक्लोसिस एक संक्रामक रोग है, जो सांस से फैलता है। यह छींकने या खांसने पर मुंह से निकले कणों से भी फैलता है।

➜टीबी, सबसे विनाशकारी बीमारियों में से एक रहा है जिससे हमें 19 वीं और 20 वीं शताब्दी में लड़ना पड़ा था। 21 वीं सदी में टीबी कम तो हो गया है, लेकिन हम अभी भी इसे पूरी तरह से खत्म करने से दूर हैं।

➜टीबी दुनिया के सबसे घातक संक्रामक बिमारियों में से एक है। प्रत्येक दिन, लगभग 4000 लोग टीबी से अपनी जान गंवाते हैं और 28,000 के करीब लोग इस बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं।

➜प्रत्येक वर्ष, 24 मार्च को World Tuberculosis Day यानी की ‘विश्व क्षय रोग दिवस‘ के रूप में मनाया जाता है।

➜यह दिन किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य, सामाजिक और आर्थिक भलाई पर टीबी के दुर्बल प्रभाव के बारे में सार्वजनिक जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है।

24 मार्च बहुत महत्व रखता है, क्योंकि यह 1882 में उस दिन को दर्शाता है जब ‘डॉ रॉबर्ट कोच’ (‘Dr. Robert Koch’) ने घोषणा की थी कि उन्होंने उस जीवाणु की खोज की थी जो टीबी का कारण बनता है।

➜वह बैसिलस जो टीबी का कारण बनता है, वह Mycobacterium tuberculosis है।

➜डॉ कोच की इस खोज ने, इस बीमारी के निदान और इलाज की दिशा में रास्ता खोल दिया।

➜टीबी से बचाव के लिए पौष्टिक आहार का सेवन करें। ऐसे आहार लें जिसमें पर्याप्त मात्रा में विटामिन्स, मिनेरल्स, कैल्शियम, प्रोटीन और फाइबर हों क्योंकि इनके सेवन से आपकी रोग- प्रतिरोधक क्षमता सही रहेगी।

➜अगर आपको, दो सप्ताह से अधिक समय तक खांसी रहती है, तो लापरवाही न बरतें बल्कि तुरंत किसी अच्छे चिकित्सक से संपर्क करें।

➜इस वर्ष के World Tuberculosis Day का विषय ‘The Clock is Ticking’ है। यह टैगलाइन यह संदेश देती है कि समय समाप्त हो रहा है और हमें टीबी को समाप्त करने के लिए और भी अधिक प्रतिबद्ध होने की आवश्यकता है।

Add Comment

Click here to post a comment