महत्वपूर्ण-दिवस-सप्ताह-वर्ष

World Menstrual Hygiene Day : मेंस्ट्रुअल हेल्थ एक मानव अधिकार है

world-menstrual-hygiene-day
Spread It

मासिक धर्म एक महिला के शरीर की सबसे महत्वपूर्ण प्रक्रियाओं में से एक है।


हर साल 28 मई को World Menstrual Hygiene Day यानी की “विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस” के रूप में मनाया जाता है।


इस दिन को मनाने के लिए यही तारीख चुना गया क्योंकि औसतन ज्यादातर महिलाओं के लिए मासिक धर्म चक्र 28 दिनों का होता है और ज्यादातर महिलाओं के लिए मासिक धर्म की अवधि पांच दिनों की होती है। इसलिए तारीख 28/5 रखी गई।


यद्यपि यह मानव शरीर के किसी भी अन्य जैविक कार्य के रूप में सामान्य है, जहां गर्भाशय की परत टूट जाती है और योनि के माध्यम से शरीर को छोड़ देती है, फिर भी इसे छिपाया जाता है और खुले तौर पर इसकी चर्चा नहीं की जाती है।


इस दिन को मानाने की शुरुआत 2014 में, जर्मन स्थित एनजीओ WASH United ने की थी।


2014 में, संयुक्त राष्ट्र ने घोषणा की कि मासिक धर्म स्वच्छता एक सार्वजनिक स्वास्थ्य मुद्दा है।


पीरियड्स का खून हमारे शरीर से बाहर निकलने वाला टॉक्सिन नहीं है, बल्कि यह पोषक तत्वों से भरा होता है क्योंकि गर्भावस्था को अंजाम देने के स्तर से तैयार किया जाता है।


मासिक धर्म के दौरान साफ-सफाई और स्वच्छता को लेकर खासतौर से सतर्क रहने की जरूरत है क्योंकि लापरवाही कई सारी बीमारियों को जन्म दे सकती है। यहां तक कि कई बार इंफेक्शन की वजह से महिलाओं को इनफर्टिलिटी संबंधी परेशानी भी हो सकती है।

ऐसी संस्कृति का निर्माण करना जो मासिक धर्म से जुड़ी चर्चा का स्वागत करे और महिलाओं और लड़कियों के लिए पर्याप्त शिक्षा प्रदान करे, समान महत्व रखता है।


गांवों और छोटे शहरों में बहुत सारी महिलाएं पीरियड्स में कपड़े का इस्तेमाल करती हैं। ऐसे में इसके इस्तेमाल से गंभीर संक्रमण हो सकता है। 

दुनिया भर में मासिक धर्म को कलंकित किया जाता है। इसे एक अभिशाप के रूप में माना जाता है।


आज भी देश के कई परिवारों में लड़कियों को मासिक धर्म के दौरान परिवार से अलग थलग कर दिया जाता है, मंदिर जाने या पूजा करने की मनाही होती है, रसोई में प्रवेश वर्जित होता है। यहां तक कि उनका बिस्तर अलग कर दिया जाता है और परिवार के किसी भी पुरुष सदस्य से इस विषय में बातचीत न करने की हिदायत दी जाती है।

लोगों को समझना होगा कि मासिक धर्म कोई अपराध नहीं है बल्कि प्रकृति की ओर से दिया गया महिलाओं को एक तोहफा है।


इस साल के World Menstrual Hygiene Day का थीम “Action and Investment in Menstrual Hygiene and Health” है।

Journalist Welfare Scheme : पत्रकारों के परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करेगी सरकार